अंडरवर्ल्ड में दरार: अपने सबसे पुराने साथी छोटा शकील से अलग हुआ दाऊद

मोस्ट वाटेंड अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम और उसके साथी छोटा शकील में फूट की खबर है. दोनों के रास्ते अब जुदा हो गए हैं. कहा जा रहा है कि शकील जब मुंबई से 1980 में दाऊद के साथ मुंबई छोड़ कर गया था तब से ही वहां पर उसके साथ ही रह रहा था. लेकिन अब उसने अपना पता भी बदल दिया है.अंडरवर्ल्ड में दरार: अपने सबसे पुराने साथी छोटा शकील से अलग हुआ दाऊदलोकतंत्र पर हमले को पूरा हुआ 17 साल: शहीद हुए लोगों को श्रद्धाजंलि देंगे PM मोदी

अंग्रेजी अखबार, सूत्रों ने बताया है कि दाऊद और शकील के बीच में कहासुनी हुई थी. ये कहासुनी दाऊद के भाई अनीस इब्राहिम की कारोबार में दखलअंदाजी के कारण हुई थी. आपको बता दें कि पिछले लगभग तीन दशकों से दाऊद और शकील साथ में ही काम कर रहे थे.

अखबार की खबर के मुताबिक, दाऊद का भाई अनीस पाकिस्तान में ही रहता है. पिछले कुछ समय से उसने अपने गुर्गे के लोगों को दाऊद के काम में दखल करवाने की कोशिश की. इसी बात से छोटा शकील नाराज था, और दाऊद से झगड़ बैठा. इस कहासुनी के बाद दाऊद ने दुबई में अपने खास लोगों के साथ मीटिंग की है. वहीं छोटा शकील के भी अपने खास गुर्गों से मिलने की खबर है.

पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसियां भी इस वाकये के बाद हरकत में हैं. उन्हें डर है कि अगर दोनों गैंग अलग होते हैं तो भारत के खिलाफ गतिविधियां बढ़ सकती हैं. बता दें कि शकील दाऊद का खास रहा है. दाऊद का हर खास आदमी भी शकील की बात मानता रहा है.

आपको बता दें कि अभी पिछले माह ही दाऊद इब्राहिम की जब्त की गई तीनों संपत्ति की नीलामी की गई. इसे सैफी बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्ट ने 11.5 करोड़ रुपये में खरीदा है. इन संपत्तियों में रौनक अफरोज होटल, डांबरवाला बिल्डिंग और शबनम गेस्ट हाउस प्रमुख है. पिछली बार रौनक होटल के लिए एस बालाकृष्णन ने 4 करोड़ 28 लाख की बोली लगाई थी, लेकिन रकम चुका नहीं पाए. 

दाऊद ने पाक में ले रखी है पनाह

बताते चलें कि 12 मार्च, 1993 को मुंबई में 13 जगह सीरियल ब्लास्ट हुए थे. इसमें करीब 257 लोगों की मौत हुई थी. 700 लोग गंभीर रूप से जख्मी हुए थे. इन धमाकों का मास्टरमांइड दाऊद इब्राहिम को माना जाता है. तभी से भारत के लिए वह वॉन्टेड है. दाऊद ने पाकिस्तान में पनाह ले रखी है. उसका कारोबार दुनिया के कई देशों में फैला हुआ है.

You May Also Like

English News