‘अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत बढ़ने से बढ़ रही पेट्रोल-डीजल के भाव’

जीएसटी लागू होने के बाद पेट्रोलियम पदार्थ को जीएसटी दायरे में शामिल किए जाने का मुद्दा कई बार उठ चुका है. रायपुर के स्वामी विवेकानंद विमानतल पर संवाददाताओं से बातचीत के दौरान पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बातचीत में कहा है कि “जब-जब अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत में बढ़ोतरी होती है तब भारत में भी पेट्रोलियम पदार्थ के दाम बढ़ते हैं. मार्च में पेट्रोलियम पदार्थों के दाम घटे लेकिन अंतरराष्ट्रीय बाजार में मूल्य वृद्धि के बाद यहां भी दाम बढ़ गए.” 'अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत बढ़ने से बढ़ रही पेट्रोल-डीजल के भाव'

साथ ही पेट्रोलियम पदार्थों को जीएसटी के दायरे में लाए जाने के सवाल पर भी धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि ” पेट्रोलियम मंत्रालय जीएसटी काउंसिल को बार-बार अनुरोध कर रहा है कि पेट्रोलियम पदार्थ भी धीरे-धीरे जीएसटी के दायरे में आ जाए. प्रधान ने कहा कि राज्यों में भी धीरे-धीरे ये मन बनाया जा रहा है. शुरुआत में जीएसटी के स्वरूप और राज्य की आय को लेकर चिंता थी. लेकिन धीरे-धीरे जीएसटी की सफलता सबके सामने है. पेट्रोलियम मंत्रालय चाहता है कि पेट्रोलियम पदार्थ भी जीएसटी के दायरे में आए.”

इस दौरान पेट्रोलियम मंत्री ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर भी निशाना साधा और कहा कि “राहुल गांधी गैरजिम्मेदार राजनीति करते हैं. इतने बड़े राष्ट्रीय दल के होने के बावजूद झूठ बोलना, अफवाह फैलाना और समाज में तनाव पैदा करना लोकतंत्र में बिल्कुल भी स्वीकार्य नहीं है.प्रधानमंत्री और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी कहा है कि कांग्रेस ने भीमराव अंबेडकर की आलोचना की थी लेकिन मोदी सरकार ने अंबेडकर जी का सम्मान बढ़ाया है.” 

संवाददाताओं से बातचीत के दौरान प्रधान ने आरक्षण के सवाल पर भी जवाब दिया और कहा कि “कल उड़ीसा में राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि जब तक भारतीय जनता पार्टी है हम आरक्षण के पक्षधर हैं. भारतीय जनता पार्टी के रहते हुए कोई भी आरक्षण खत्म नहीं कर सकता है. यह पार्टी का स्पष्ट मत है.”

प्रधान ने उड़ीसा में अमित शाह के दौरे को लेकर कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने उड़ीसा का दो दिवसीय दौरा किया. छत्तीसगढ़ के सीमावर्ती इलाके बोलंगीर और भवानीपटना में जनसभाओं  को उन्होंने संबोधित किया. उड़ीसा में राजनैतिक माहौल बदला है. उड़ीसा की जनता में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की व्यवस्था के प्रति आकर्षण बढ़ा है. अमित शाह का दौरा सफल रहा है. आने वाले समय में ऐसी उम्मीद है कि उड़ीसा में भी भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनेगी.”

 

You May Also Like

English News