अंतिम संस्कार से ठीक पहले उठकर खड़ी हो गई मृत महिला

आपने ने भी कई बार ऐसा देखा या सुना होगा कि कोई व्यक्ति मरने के बाद फिर से जिन्दा हो गया हो. आज हम आपको ऐसी ही एक घटना के बारे में बता रहें हैं जहां अंतिम संस्कार से पहले एक महिला जिन्दा हो गईं. जी हाँ… इस महिला की उम्र 60 वर्ष थीं. महिला को मृत घोषित कर दिया गया था और उन्हें घर ले जाने की तैयारी हो रही थी इसके साथ ही अंतिम संस्कार की भी तैयारियां शुरू कर दी गई थी लेकिन फिर अचानक ही कुछ ऐसा हुआ जिसे देखकर हर किसी की चीख निकल गई.आपने ने भी कई बार ऐसा देखा या सुना होगा कि कोई व्यक्ति मरने के बाद फिर से जिन्दा हो गया हो. आज हम आपको ऐसी ही एक घटना के बारे में बता रहें हैं जहां अंतिम संस्कार से पहले एक महिला जिन्दा हो गईं. जी हाँ... इस महिला की उम्र 60 वर्ष थीं. महिला को मृत घोषित कर दिया गया था और उन्हें घर ले जाने की तैयारी हो रही थी इसके साथ ही अंतिम संस्कार की भी तैयारियां शुरू कर दी गई थी लेकिन फिर अचानक ही कुछ ऐसा हुआ जिसे देखकर हर किसी की चीख निकल गई.    ये घटना सीकर की हैं जहां नंछी देवी नाम की एक महिला के पेट में गांठ हो गई थी. महिला का ऑपरेशन भी हो गया था. एक हफ्ते पहले ही ये महिला चेकअप के लिए अस्पताल गई थी और अस्पताल पहुंचते ही महिला की हालत बहुत ज्यादा बिगड़ गई जहां महिला को एडमिट किया गया हैं. अस्पताल में ही महिला को हार्ट अटैक आ गया. महिला के परिजनों ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि, अस्पताल में महिला की साँसे भी रुक गई थी. डॉक्टर्स ने कहा कि महिला कोमा में चली गई हैं और उन्हें वेंटीलेटर पर रखना जरुरी हो गया हैं लेकिन महिला के परिवारजनों ने उन्हें मृत मानकर अस्पताल से छुट्टी करवा ली और घर ले गए.    जब महिला को घर ले जा रहें थे तो शहर से 5 किमी की दूरी पर ही अचानक से एक ब्रेकर आया और महिला को झटका लगा जिसके बाद उसे खांसी आई और महिला ने पानी भी मांग लिया. ये देख महिला के परिवारजन हैरान रह गए लेकिन उनमे ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी. महिला को इस के बाद तुरंत फिर से अस्पताल ले गए जहां डॉक्टर्स ने उनका इलाज करना शुरू कर दिया.

ये घटना सीकर की हैं जहां नंछी देवी नाम की एक महिला के पेट में गांठ हो गई थी. महिला का ऑपरेशन भी हो गया था. एक हफ्ते पहले ही ये महिला चेकअप के लिए अस्पताल गई थी और अस्पताल पहुंचते ही महिला की हालत बहुत ज्यादा बिगड़ गई जहां महिला को एडमिट किया गया हैं. अस्पताल में ही महिला को हार्ट अटैक आ गया. महिला के परिजनों ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि, अस्पताल में महिला की साँसे भी रुक गई थी. डॉक्टर्स ने कहा कि महिला कोमा में चली गई हैं और उन्हें वेंटीलेटर पर रखना जरुरी हो गया हैं लेकिन महिला के परिवारजनों ने उन्हें मृत मानकर अस्पताल से छुट्टी करवा ली और घर ले गए.

जब महिला को घर ले जा रहें थे तो शहर से 5 किमी की दूरी पर ही अचानक से एक ब्रेकर आया और महिला को झटका लगा जिसके बाद उसे खांसी आई और महिला ने पानी भी मांग लिया. ये देख महिला के परिवारजन हैरान रह गए लेकिन उनमे ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी. महिला को इस के बाद तुरंत फिर से अस्पताल ले गए जहां डॉक्टर्स ने उनका इलाज करना शुरू कर दिया.

You May Also Like

English News