अंपायर से नाराज लंका क्रिकेट टीम मैदान में नहीं उतरी

वेस्टइंडीज़ और श्रीलंका के बीच चल रहे दूसरे टेस्ट मैच के दौरान गेंद से छेड़छाड़ का विवाद मैच के पुरे ही न हो पाने तक बढ़ गया .आखिर में निर्धारित समय से दो घंटे की देरी से कहे शुरू भी हुआ.दरअसल मैच के अंपायर अलीम दार और इयान गाउल्ड को गेंद को लेकर कुछ शिकायत थी जिस पर श्रीलंकाई टीम से कहा गया कि वे उसी गेंद से खेल आगे शुरू नहीं कर सकते. इसके बाद श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चंदीमल और उनकी टीम ने मैदान पर उतरने से मना कर दिया.वेस्टइंडीज़ और श्रीलंका के बीच चल रहे दूसरे टेस्ट मैच के दौरान गेंद से छेड़छाड़ का विवाद मैच के पुरे ही न हो पाने तक बढ़ गया .आखिर में निर्धारित समय से दो घंटे की देरी से कहे शुरू भी हुआ.दरअसल मैच के अंपायर अलीम दार और इयान गाउल्ड को गेंद को लेकर कुछ शिकायत थी जिस पर श्रीलंकाई टीम से कहा गया कि वे उसी गेंद से खेल आगे शुरू नहीं कर सकते. इसके बाद श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चंदीमल और उनकी टीम ने मैदान पर उतरने से मना कर दिया.    क्रिकेट के इतिहास में  ऐसा दूसरी बार हुआ जब किसी टीम ने मैदान में आने से मन किया हो. इससे पहले  पाकिस्तान ने 2006 में ओवल में अंपायर बिली डॉक्ट्रोव और डेरेल हेयर ने गेंद से छेड़छाड़ के लिए पांच पेनल्टी रन का जुर्माना लगाए जाने के बाद चौथे दिन टी-ब्रेक के बाद मैदान से बायकाट कर दिया था और टीम अंत तक खेलने भी नहीं आई अंपायरों ने इंग्लैंड को विजेता घोषित कर दिया था.    ताजा मामले में श्रीलंका ने 253 रन बनाये थे और इंडीज को अपनी पहली पारी दो विकेट पर 118 रन से आगे ले जानी थी, नाटकीय ढंग से मैच रेफरी जवागल श्रीनाथ, श्रीलंकाई कोच चंडिका हथुरासिंघे और टीम मैनेजर असांका गुरूसिंघा,वेस्टइंडीज़ के टीम मैनेजर रॉल लुईस, कोच स्टुअर्ट लॉ और कप्तान जैसन होल्डर मिलकर दो घंटे तक कश्मकश में लगे रहे और अंत में मैच शुरू हुआ .

क्रिकेट के इतिहास में  ऐसा दूसरी बार हुआ जब किसी टीम ने मैदान में आने से मन किया हो. इससे पहले  पाकिस्तान ने 2006 में ओवल में अंपायर बिली डॉक्ट्रोव और डेरेल हेयर ने गेंद से छेड़छाड़ के लिए पांच पेनल्टी रन का जुर्माना लगाए जाने के बाद चौथे दिन टी-ब्रेक के बाद मैदान से बायकाट कर दिया था और टीम अंत तक खेलने भी नहीं आई अंपायरों ने इंग्लैंड को विजेता घोषित कर दिया था.

ताजा मामले में श्रीलंका ने 253 रन बनाये थे और इंडीज को अपनी पहली पारी दो विकेट पर 118 रन से आगे ले जानी थी, नाटकीय ढंग से मैच रेफरी जवागल श्रीनाथ, श्रीलंकाई कोच चंडिका हथुरासिंघे और टीम मैनेजर असांका गुरूसिंघा,वेस्टइंडीज़ के टीम मैनेजर रॉल लुईस, कोच स्टुअर्ट लॉ और कप्तान जैसन होल्डर मिलकर दो घंटे तक कश्मकश में लगे रहे और अंत में मैच शुरू हुआ .

You May Also Like

English News