अंबानी के ये रिश्तेदार बने गुजरात सरकार में मंत्री, करोड़ों की है संपत्ति

बीजेपी ने गुजरात में लगातार छठवीं बार अपनी नई सरकार बनाई. विजय रूपाणी दोबारा गुजरात के सीएम बने. वहीं, डिप्टी सीएम का पद नितिन पटेल ने संभाला. रूपाणी ने अपने कैबिनेट में 10 नेताओं को जगह दी है. इन सभी नेताओं में यदि किसी की चर्चा सबसे ज्यादा हो रही है तो वो है बोताड़ के विधायक सौरभ पटेल की.

गुजरात के कद्दावर नेता माने जाने वाले सौरभ पटेल भले ही 906 वोटों के अंतर से चुनाव जीते हों, लेकिन उन्हें इस बार भी कैबिनेट में जगह मिली है. सौरभ इसीलिए भी चर्चा में है क्योंकि उनका नाता देश के सबसे अमीर अंबानी परिवार से है.

बता दें कि सौरभ धीरूभाई अंबानी के बड़े भाई रमनिकभाई अंबानी के दामाद हैं. इस तरह वे मुकेश और अनिल अंबानी की कजिन बहन इला अंबानी के पति  हैं.

यही नहीं, वे गुजरात के सबसे अमीर विधायक भी हैं. 2017 विधानसभा चुनाव में चुनाव आयोग में दाखिल हलफनामे के अनुसार उनके एसेट्स 123 करोड़ रुपए हैं. वे भाजपा के सबसे भरोसेमंद नेताओं में भी गिने जाते हैं.

यही वजह है कि वे गुजरात सरकार में वित्त, ऊर्जा, प्रेट्रोकेमिकल और उद्योग जैसे मंत्रालय संभाल चुके हैं. उद्योग मंत्री रहते हुए इनवेस्टर मीट वाइब्रेंट गुजरात का भी वे मुख्य चेहरा रहे थे.

गुजरात में कई बड़े प्रोजेक्ट शुरु करने का श्रेय भी सौरभ पटेल को ही जाता है. कहा जाता है कि नर्मदा नहर पर बने एशिया के सबसे बड़े सोलर प्रोजेक्ट को शुरु करने के पीछे सौरभ का ही दिमाग था.

पर्सनल लाइफ की बात की जाए तो सौरभ लाइम लाइट से दूर रहना पसंद करते हैं. विवादों से भी हमेशा दूरी बनाए रखते हैं. उनको गुजरात के सबसे शिक्षित नेताओं में भी गिना जाता है.

पर्सनल लाइफ की बात की जाए तो सौरभ लाइम लाइट से दूर रहना पसंद करते हैं. विवादों से भी हमेशा दूरी बनाए रखते हैं. उनको गुजरात के सबसे शिक्षित नेताओं में भी गिना जाता है.

 
loading...

You May Also Like

English News