अंबेडकर जयंती: देश के पहले हेल्थ वेलनेस सेंटर का उद्घाटन

अंबेडकर जयंती के मौके पर ‘आयुष्मान भारत’ के तहत देश के पहले हेल्थ वेलनेस सेंटर का आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उद्घाटन करेंगे. इसके साथ ही ग्राम स्वराज अभियान और आदिवासियों से जुड़ी विभिन्न परियोजनाओं की भी शुरुआत करेंगे. छत्तीसगढ़ के बीजापुर में प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर शहरों से लेकर जंगलों तक सुरक्षा चौकस कर दी गयी है. बड़ी तादाद में पुलिस और केंद्रीय सुरक्षा बलों की तैनाती के चलते पूरा इलाका छावनी में तब्दील हो गया है.दूसरी ओर प्रधानमंत्री मोदी की आम सभा में भीड़ ना जुट सके, इसके लिए नक्सलियों ने एड़ी चोटी का जोर लगा दिया है. हथियार बंद नक्सली दिन रात गांव कस्बो का रुख कर रहे है. वो वहां बंदूक की नोक पर ग्रामीणों को प्रधानमंत्री की सभा में ना जाने देने के लिए ताकीद कर रहे हैं. नक्सली गांव-गांव में खुफिया बैठकें ले रहे हैं और गांववालों को पीएम मोदी की सभा में नहीं जाने की चेतावनी दे रहे हैं.

बीजापुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ राज्य के मुख्यमंत्री रमन सिंह के अलावा चंद केंद्रीय मंत्री ही मंच साझा करेंगे. एसपीजी ने मंच को अपने कब्जे में ले लिया है. वही सभा स्थल के चारों ओर बारीकी से पड़ताल की जा रही है. नक्सली हमलों के मामलों में संवेदनशील इलाका होने के चलते काफी सतर्कता बरती जा रही है. प्रधानमंत्री के आगमन को देखते हुए इस पूरे इलाके में बिजली, सड़क, पानी और स्वास्थ्य सेवाओं का तेजी से विस्तार किया गया है. पीने के पानी का बंदोबस्त करने के लिए ठोस पहल की गई है. कई इलाकों में तो रातों रात नलकूप खोद दिए गए तो कुछ इलाके ऐसे भी है, जहां कच्ची सड़कों को रातों रात पक्की कर दिया गया है. 

दूसरी ओर प्रधानमंत्री मोदी की आम सभा में भीड़ ना जुट सके, इसके लिए नक्सलियों ने एड़ी चोटी का जोर लगा दिया है. हथियार बंद नक्सली दिन रात गांव कस्बो का रुख कर रहे है. वो वहां बंदूक की नोक पर ग्रामीणों को प्रधानमंत्री की सभा में ना जाने देने के लिए ताकीद कर रहे हैं. नक्सली गांव-गांव में खुफिया बैठकें ले रहे हैं और गांववालों को पीएम मोदी की सभा में नहीं जाने की चेतावनी दे रहे हैं.

You May Also Like

English News