अकेले हो या ग्रूप में, ट्रैकिंग के इन बेसिक फंडों के बारे में जानना है जरूरी

ट्रैकिंग का शौक हर किसी को नहीं होता लेकिन जिन्हें होता है वो इस एडवेंचर को बहुत एन्जॉय करते हैं। पहाड़ों की ट्रैकिंग इसलिए भी खास होती है क्योंकि यहां का मौसम लगातार बदलता रहता है। धूप, बारिश और कभी ठंड का एहसास कराने वाली ट्रैकिंग पर जाते समय सिर्फ स्टाइलिश कपड़े और फुटवेयर्स की पैकिंग ही काफी नहीं होती। और भी कई सारी चीज़ें हैं जिसका ध्यान रखना होता है। तभी आप ट्रैकिंग के मजे ले पाएंगे। ट्रैकिंग का शौक हर किसी को नहीं होता लेकिन जिन्हें होता है वो इस एडवेंचर को बहुत एन्जॉय करते हैं। पहाड़ों की ट्रैकिंग इसलिए भी खास होती है क्योंकि यहां का मौसम लगातार बदलता रहता है। धूप, बारिश और कभी ठंड का एहसास कराने वाली ट्रैकिंग पर जाते समय सिर्फ स्टाइलिश कपड़े और फुटवेयर्स की पैकिंग ही काफी नहीं होती। और भी कई सारी चीज़ें हैं जिसका ध्यान रखना होता है। तभी आप ट्रैकिंग के मजे ले पाएंगे।    ट्रैकिंग की शुरूआत करने से पहले इन बातों को जान लेना है जरूरी    ट्रैकिंग की पूरी जानकारी पास रखें   घूमने-फिरने का असली मजा तभी ले पाएंगे जब आप पूरी प्लानिंग के साथ जाएंगे और प्लानिंग के लिए सबसे जरूरी है नॉलेज। जिस भी जगह जा रहे हैं उस जगह का मौसम ट्रैकिंग के लिए अनुकूल है या नहीं? ट्रैकिंग का रास्ता कैसा है? वहां रूकने की क्या व्यवस्था है? सामान लेकर ट्रैक करना है क्या? ट्रैकिंग में कितना टाइम लग सकता है? ये सारी जानकारी होने पर ही आप उसके हिसाब से अपनी आगे की प्लानिंग कर पाएंगे। ग्रूप में ट्रैवल कर रहे हैं या अकेले ये दोनों ही सिचुएशन के लिए जरूरी है।   पहाड़ों पर ट्रैकिंग के दौरान काम आएंगे ये स्मार्ट टिप्स यह भी पढ़ें आपके आउटफिट्स और फुटवेयर्स हो कम्फर्टेबल   ट्रैकिंग पर जाते समय बेहतर होगा कि आप फुल स्लीव टी-शर्ट्स और ट्रैक पेंट्स पहनें। जो बहुत ही कम्फर्टेबल होते हैं। ट्रैकिंग के दौरान फुटवेयर्स में हमेशा जूते पहनें जिसकी पकड़ अच्छी होती है। बेहतर होगा ट्रैकिंग के लिए एक बार ब्रांडेड जूते ही खरीद लें। इससे बर्फ हो या पथरीला रास्ता आपको चलने में किसी तरह की कोई परेशानी नहीं होती। हां, ट्रैकिंग के दौरान सैंडल्स और फ्लोटर्स पहनने का आइडिया बिल्कुल भी सही नहीं।

ट्रैकिंग की शुरूआत करने से पहले इन बातों को जान लेना है जरूरी  

ट्रैकिंग की पूरी जानकारी पास रखें 

घूमने-फिरने का असली मजा तभी ले पाएंगे जब आप पूरी प्लानिंग के साथ जाएंगे और प्लानिंग के लिए सबसे जरूरी है नॉलेज। जिस भी जगह जा रहे हैं उस जगह का मौसम ट्रैकिंग के लिए अनुकूल है या नहीं? ट्रैकिंग का रास्ता कैसा है? वहां रूकने की क्या व्यवस्था है? सामान लेकर ट्रैक करना है क्या? ट्रैकिंग में कितना टाइम लग सकता है? ये सारी जानकारी होने पर ही आप उसके हिसाब से अपनी आगे की प्लानिंग कर पाएंगे। ग्रूप में ट्रैवल कर रहे हैं या अकेले ये दोनों ही सिचुएशन के लिए जरूरी है।

आपके आउटफिट्स और फुटवेयर्स हो कम्फर्टेबल 

ट्रैकिंग पर जाते समय बेहतर होगा कि आप फुल स्लीव टी-शर्ट्स और ट्रैक पेंट्स पहनें। जो बहुत ही कम्फर्टेबल होते हैं। ट्रैकिंग के दौरान फुटवेयर्स में हमेशा जूते पहनें जिसकी पकड़ अच्छी होती है। बेहतर होगा ट्रैकिंग के लिए एक बार ब्रांडेड जूते ही खरीद लें। इससे बर्फ हो या पथरीला रास्ता आपको चलने में किसी तरह की कोई परेशानी नहीं होती। हां, ट्रैकिंग के दौरान सैंडल्स और फ्लोटर्स पहनने का आइडिया बिल्कुल भी सही नहीं।

You May Also Like

English News