अखिलेश की ताजपोशी के लिए ‌निकले थे मुलायम, फिर क्यों लौटे ‌वापस

समाजवादी पार्टी के आगरा में हुए राष्ट्रीय अधिवेशन में मुलायम सिंह यादव के शामिल होने ना होने को लेकर अटकलें लगती रहीं। लगता है कि मुलायम खुद भी इसी कशमकश में रहे। मिली जानकारी के अनुसार मुलायम आगरा जाने के लिए लखनऊ एयरपोर्ट तक तो पहुंचे लेकिन फिर वापस लौट आए। बता दें कि बुधवार को हुई पार्टी कार्यकारिणी की बैठक में मुलायम के शामिल होने को लेकर उम्मीदें जताई गई थीं।

वहीं, पार्टी का अध्यक्ष चुने जाने पर अखिलेश यादव ने कहा कि नेताजी (मुलायम) का आशीर्वाद हमेशा मेरे साथ है। अधिवेशन में सर्वसम्मति से अखिलेश को सपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया। शिवपाल सिंह यादव ने ट्वीट कर अखिलेश को बधाई दी। शिवपाल आज (बृहस्पतिवार को) सुबह मुलायम से मिले थे। शिवपाल के ट्वीट के बाद परिवार में सबकुछ ठीक होने की बातें कही जा रही हैं।

वहीं, मुलायम ने 25 सितंबर को लोहिया ट्रस्ट में हुई प्रेस कांफ्रेंस में कहा था मेरा आशीर्वाद अखिलेश के साथ है पर उनके कुछ फैसलों से मैं सहमत नहीं हूं। ये पूछे जाने पर कि कौन से फैसलों से सहमत नहीं हैं। मुलायम ने कहा था कि वक्त आने पर बताऊंगा।

 

आगरा में हुए सपा के राष्ट्रीय अधिवेशन में अखिलेश यादव को फिर से पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया। खास बात ये है कि पहले अध्यक्ष पद का कार्यकाल तीन साल के लिए होता था, लेकिन इस बार अखिलेश को पांच साल के लिए चुना गया है। इसके लिए पार्टी के संविधान में संशोधन किया गया है।
 

इससे पहले हुए राज्य स्तरीय सम्मेलन में सपा का प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल को चुना गया था। राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते ही सपा की कमान पूरी तरह अखिलेश के हा‌थों में आ गई है, जबकि प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल भी अखिलेश खेमे के ही हैं।
 

अखिलेश को एक जनवरी 2017 को सपा संस्‍थापक मुलायम सिंह यादव को पद से हटाकर अध्यक्ष बनाया गया था। हालांकि, इस बार भी मुलायम मौजूद नहीं थे लेकिन अखिलेश ने अपने भाषण में जिक्र किया कि नेताजी (मुलायम) का आशीर्वाद हमेशा हमारे साथ है।
 

You May Also Like

English News