अगर आप भी चेक से पैसे का करते हैं लेन-देन, तो जरुर फॉलो करें नया नियम

अगर आप चेक से पैसे का लेन-देन करते हैं तो ये नया नियम जरूर फॉलो करें, नहीं तो नुकसान झेलना पड़ सकता है। देखिए खबर, जानकारी बेहद जरूरी है। अगर आप भी चेक से पैसे का करते हैं लेन-देन, तो जरुर फॉलो करें नया नियम

अब इस तरह से अपने मोबाइल में भी पढ़ सकते है दूसरों का व्हाट्सऐप मैसेज

दरअसल, एक अक्तूबर से देश के छह बैंकों की चेक बुक अमान्य हो गई है। ये बैंक हैं- स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला, स्टेट बैंक ऑफ त्रवणकोर और भारतीय महिला बैंक। इसलिए एसबीआई के ग्राहक हैं तो नई चेक बुक अप्लाई कर दीजिए। इसके लिए नेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, एटीएम या फिर शाखा में जाकर आवेदन कर सकते हैं। 

चंडीगढ़ से एक बैंक अधिकारी ने बताया, एसबीआई ने ब्याज दर में कटौती करके सबसे सस्ते होम लोन लेकर आया है। एसबीआई प्रधानमंत्री आवास योजना के दायरे में आने वाले ग्राहकों को 2.67 लाख रुपये की ब्याज सब्सिडी भी मिलेगी। एसबीआई ने मिनिमम मंथली एवरेज बैलेंस (एमएबी) लिमिट को कम कर दिया है। अब मेट्रो शहरों में सेविंग बैंक अकाउंट होल्डर के लिए 3,000 रुपए का मिनिमम एवरेज बैलेंस (मंथली) ही अनिवार्य होगा। इससे पहले यह लिमिट 5,000 रुपए थी।

 वहीं शहरी, अर्ध शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में मिनिमम बैलेंस की शर्त क्रमश: 3,000 रुपए, 2,000 रुपए और 1,000 रुपए रहेगी। यह नियम भी एक अक्तूबर से लागू हो गया है। एसबीआई ने पेंशनभोगियों, सरकार की सामाजिक योजनाओं के लाभार्थियों तथा नाबालिग खाताधारकों को बचत खाते में न्यूनतम बकाया की सीमा से छूट दी है। बैंक ने मिनिमम बैलेंस न रखने पर जुर्माना भी घटा दिया है। बैंक ने जुर्माना राशि 20 से 50 फीसदी कम की है।

अर्द्धशहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के लिए यह शुल्क या जुर्माना राशि 20 से 40 रुपये होगी। वहीं शहरी और महानगरों के लिए यह 30 से 50 रुपये होगी। एसबीआई के नए नियमों के मुताबिक, अगर कोई ग्राहक खाता खुलवाने के एक वर्ष के भीतर उसे बंद करवाता है तो उसे किसी भी तरह का शुल्क नहीं देना पड़ेगा।
रेग्युलर सेविंग बैंक एकाउंट और बेसिक सेविंग बैंक डिपॉजिट एकाउंट के बंद कराने पर भी किसी तरह का शुल्क नहीं लिया जाएगा।बैंक के मुताबिक, यदि किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है और खाता बंद किया जाता है तो उस स्थिति में भी कोई शुल्क नहीं लगाया जाएगा। साथ ही कोई खाताधारक एकाउंट खुलने के 14 दिनों के भीतर उसे बंद करवाता है तो कोई शुल्क नहीं ल‌िया जाएगा।

You May Also Like

English News