अगर कैंसर के रिस्क को बढ़ाने के लिए न खाएं ये चीजे..

कैंसर ऐसी बीमारी है, जिससे सबसे अधिक लोगो की मौत होती है. कैंसर एक ऐसी खतरनाक बीमारी है जिससे मरने वालो की संख्या एड्स जैसी बीमारी से भी अधिक है. यह जेनेटिक कारणों से भी होती है, खान-पान और लाइफस्टाइल के कारण भी होती है. इसके लिए हम आपको बताने जा रहे है जिसे खाने से कैंसर की संभावना बढ़ सकती है.

जानिए..मधुमेह रोगियों के लिए बेहद जरूरी है ये काम नहीं तो जीवन में छा जाएगा अंधेरा..अगर कैंसर के रिस्क को बढ़ाने के लिए न खाएं ये चीजे..जानिए क्या है गर्मियों में पुदीना खाने के फायदे

हार्ड प्लास्टिक की केन में पैक्ड फ़ूड प्रोडक्ट मार्केट में उपलब्ध है उनमे bisphenol-A (BPA) नाम का ऐसा तत्व पाया जाता है जो कैंसर का बहुत बड़ा कारण है. स्मोक्ड फ़ूड में नाइट्रेट्स और नाइट्राइट सामान्य से अधिक मात्रा में पाए जाते है. इनमे बड़ी मात्रा में रंग और मसाले का इस्तेमाल किया जाता है जो पकाने पर कैमिकल में बदल जाते है. जिससे कैंसर के रिस्क बढ़ जाते है.

मछलियों की पैदावार अच्छी करने के लिए ऐसी दवाओं का इस्तेमाल किया जाता है जो शरीर में कैंसर पैदा करने के लिए काफ़ी होता है. इसलिए फार्मेड फिश न खाए. माइक्रोवेव पॉपकॉर्न भी सेहत के लिए नुकसानदायक होते है. प्रोसेस्ड फ़ूड में नाइट्रेट्स और नाइट्राइट जैसे तत्व पाए जाते है, जो कि कैंसर का कारण बनते है.

You May Also Like

English News