अगर गन्दी सोच रखते हो तो इन तस्वीरों को मत देखना

गंदगी दिमाग में होती हैं तस्वीरों में नहीं, यह बात हम इसलिए कह रहें हैं क्योंकि आज हम जो तस्वीरें लेकर आए हैं वह डबल मीनिंग हैं. उन तस्वीरों को देखने के बाद आप गंदा सोचने के लिए मजबूर हो जाएंगे, यह तो तय है. अक्सर ही हम सोशल साइट्स पर ना जाने कितनी ही ऐसी तस्वीरें देखते हैं जो दिमाग को उल्टा करके रख देती हैं और दिमाग की ऐसी की तैसी कर देती हैं. सोशल साइट्स की कई ऐसी तस्वीरें हैं जो दिमाग में सनसनी पैदा कर देती हैं और उन्हें देखने के बाद ऐसा लगता हैं कि ‘हे राम यह क्या देख लिया’ और उसके बाद समझ आता है कि यह तो साफ़-सुथरी तस्वीर है इसमें कुछ गंदा है ही नहीं. आज हम भी जो तस्वीरें लेकर आए हैं उनमे आपको दिमाग लगाना पड़ेगा तब आपको समझ आएंगी वरना आप भी यहीं कहेंगे कि ‘हे राम’ इन तस्वीरों को देखने के बाद कुछ लोग समझने में समय गंवा देंगे लेकिन कुछ ऐसे होंगे जिन्हे देखते ही गलत समझ आएगा लेकिन चंद ही सेकेंड्स में वह तस्वीर सही से समझ लेंगे. जैसे पहली तस्वीर को ही ले लीजिए. अरे भाई ये वो नहीं है जो आप समझ रहें हैं यह तो केवल पैरों की एड़ियां हैं.गंदगी दिमाग में होती हैं तस्वीरों में नहीं, यह बात हम इसलिए कह रहें हैं क्योंकि आज हम जो तस्वीरें लेकर आए हैं वह डबल मीनिंग हैं. उन तस्वीरों को देखने के बाद आप गंदा सोचने के लिए मजबूर हो जाएंगे, यह तो तय है. अक्सर ही हम सोशल साइट्स पर ना जाने कितनी ही ऐसी तस्वीरें देखते हैं जो दिमाग को उल्टा करके रख देती हैं और दिमाग की ऐसी की तैसी कर देती हैं. सोशल साइट्स की कई ऐसी तस्वीरें हैं जो दिमाग में सनसनी पैदा कर देती हैं और उन्हें देखने के बाद ऐसा लगता हैं कि 'हे राम यह क्या देख लिया' और उसके बाद समझ आता है कि यह तो साफ़-सुथरी तस्वीर है इसमें कुछ गंदा है ही नहीं. आज हम भी जो तस्वीरें लेकर आए हैं उनमे आपको दिमाग लगाना पड़ेगा तब आपको समझ आएंगी वरना आप भी यहीं कहेंगे कि 'हे राम' इन तस्वीरों को देखने के बाद कुछ लोग समझने में समय गंवा देंगे लेकिन कुछ ऐसे होंगे जिन्हे देखते ही गलत समझ आएगा लेकिन चंद ही सेकेंड्स में वह तस्वीर सही से समझ लेंगे. जैसे पहली तस्वीर को ही ले लीजिए. अरे भाई ये वो नहीं है जो आप समझ रहें हैं यह तो केवल पैरों की एड़ियां हैं.    अरे ढंग से देखो पर्दे हैं बस आकार बदल गए.    मुझे खुद यह तस्वीर समझ नहीं आई, आपको कहाँ से समझाऊं.    यह तो बैग के साथ दो और बैग हैं.    अरे,अरे साइकिल की सीट है वह.    ऐसे कौन करता है, यह तो गन्दी हरकत है.    अरे यह आगे वाली लड़की का हाथ है, पीछे वाली ने कपड़े पहने हैं.    नी रे बावा गलत नी समझते.    अरे वो आदमी है.    अरे जेब में हाथ है पेंट में नहीं.    इसे कहते है पागलपंती.    कभी-कभी लोग खुद को लाइमलाइट में लाने के लिए ऐसा कर जाते हैं.

अरे ढंग से देखो पर्दे हैं बस आकार बदल गए.

मुझे खुद यह तस्वीर समझ नहीं आई, आपको कहाँ से समझाऊं.

यह तो बैग के साथ दो और बैग हैं.

अरे,अरे साइकिल की सीट है वह.

ऐसे कौन करता है, यह तो गन्दी हरकत है.

अरे यह आगे वाली लड़की का हाथ है, पीछे वाली ने कपड़े पहने हैं.

नी रे बावा गलत नी समझते.

अरे वो आदमी है.

अरे जेब में हाथ है पेंट में नहीं.

इसे कहते है पागलपंती.

कभी-कभी लोग खुद को लाइमलाइट में लाने के लिए ऐसा कर जाते हैं.

You May Also Like

English News