अगर बोला तो मेरी नौकरी चली जाएगी-मोहन भागवत

‘अगर बोला तो मेरी नौकरी चली जाएगी’. संभवतः इस तरह का बयान आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने पहली दफा दिया है. राजकोट पहुंचे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत से एयरपोर्ट पर भागवत ने यह कह कर सबो सोचने पर मजबूर कर दिया. वे यहांअखिल भारतीय प्रांत प्रचारकों की सालाना बैठक में शामिल होने के लिए पहुंचे है. 'अगर बोला तो मेरी नौकरी चली जाएगी'. संभवतः इस तरह का बयान आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने पहली दफा दिया है. राजकोट पहुंचे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत से एयरपोर्ट पर भागवत ने यह कह कर सबो सोचने पर मजबूर कर दिया. वे यहांअखिल भारतीय प्रांत प्रचारकों की सालाना बैठक में शामिल होने के लिए पहुंचे है.     15 से 17 जुलाई तक अखिल भारतीय प्रांत प्रचारकों की तीन दिवसीय सालाना बैठक के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत 12 से 18 जुलाई तक सोमनाथ में है. संघ प्रमुख मोहन भागवत, संघ के प्रचार प्रमुख और सह सरकार्यवाह मनमोहन वैद्य भी जब राजकोट एयरपोर्ट पर पहुंचे तो पत्रकारों के सवाल पर उन्होंने कह दिया कि अगर बोला तो मेरी नौकरी चली जायेगी, बोलने का काम किसी और को दिया गया है.    तीन दिनों की बैठक में संघ के सर कार्यवाह भैया जोशी, सह सर कार्यवाह, कार्यकारिणी सदस्य, क्षेत्र प्रचारक, प्रांत प्रचारक और सह प्रांत प्रचारक और अन्य सदस्य भी शामिल होंगे. इस बैठक में आगामी चुनावों में आरएसएस के किरदार पर रणनीतियों पर चर्चा संभव है.

15 से 17 जुलाई तक अखिल भारतीय प्रांत प्रचारकों की तीन दिवसीय सालाना बैठक के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत 12 से 18 जुलाई तक सोमनाथ में है. संघ प्रमुख मोहन भागवत, संघ के प्रचार प्रमुख और सह सरकार्यवाह मनमोहन वैद्य भी जब राजकोट एयरपोर्ट पर पहुंचे तो पत्रकारों के सवाल पर उन्होंने कह दिया कि अगर बोला तो मेरी नौकरी चली जायेगी, बोलने का काम किसी और को दिया गया है.

तीन दिनों की बैठक में संघ के सर कार्यवाह भैया जोशी, सह सर कार्यवाह, कार्यकारिणी सदस्य, क्षेत्र प्रचारक, प्रांत प्रचारक और सह प्रांत प्रचारक और अन्य सदस्य भी शामिल होंगे. इस बैठक में आगामी चुनावों में आरएसएस के किरदार पर रणनीतियों पर चर्चा संभव है. 

You May Also Like

English News