अजय की आने वाली फिल्म नहीं होगी बायोपिक

बॉलीवुड से ये खबर आई थी कि बॉलीवुड एक्टर अजय देवगन और बोनी कपूर फिल्म के लिए मीटिंग कर रहे हैं. बोनी कपूर जल्दी ही अजय देवगन के साथ फिल्म बनाने जा रहे हैं जिसकी खबर कई समय से आ रही है. इस बात की जानकारी बोनी कपूर ने दे दी थी. लेकिन हाल ही में एक खबर आई है जिसके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं. इस बात की आधिकारिक घोषणा कर दी गई है लकिन फिल्म से जुड़ी एक और जानकारी सामने आई है. आइये बता देते हैं उसके बारे में.बॉलीवुड से ये खबर आई थी कि बॉलीवुड एक्टर अजय देवगन और बोनी कपूर फिल्म के लिए मीटिंग कर रहे हैं. बोनी कपूर जल्दी ही अजय देवगन के साथ फिल्म बनाने जा रहे हैं जिसकी खबर कई समय से आ रही है. इस बात की जानकारी बोनी कपूर ने दे दी थी. लेकिन हाल ही में एक खबर आई है जिसके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं. इस बात की आधिकारिक घोषणा कर दी गई है लकिन फिल्म से जुड़ी एक और जानकारी सामने आई है. आइये बता देते हैं उसके बारे में.  अब इस रूप में नज़र आएंगे अजय देवगन  फ़िल्मी गलियारे से ये खुलासा हुआ था कि बोनी कपूर अजय देवगन के साथ फिल्म बना रहे हैं जिसमें अजय इंडिया के फुटबॉल कोच सैय्यद अब्दुल रहीम बनने वाले हैं. ये रोल उनके लिए बहुत ही नया होने वाला था. इस नाम से ये भी समझ में आ रहा है कि फिल्म फुटबॉल कोच की बायोपिक है जो जल्दी ही पर्दे पर आएगी और कुछ लोग इसे सही मान कर बैठे हैं. लेकिन आपको बता दें, ये कोई बायोपिक नहीं है बल्कि उससे बहुत अलग होने वाली है.  'चाणक्य'-'तानाजी' के बाद एक और बायोपिक में शामिल हुए अजय     इस पर टीम के मेंबर ने बताया कि ये फिल्म रहीम की लाइफ पर आधारित नहीं होगी. इस फिल्म में सिर्फ उस सुनहरे समय को दर्शाया जायेगा जिसमें रहीम फुटबॉल के कोच रहे. फिल्म में इसकी कहानी 1951 से शुरू होती है और साल 1962 में खत्म होती है. उसी तरह फिल्म में अजय देवगन एक नायक की भूमिका में नज़र आएंगे जो फिल्म उस समय के स्पेर्ट्स ड्रामा पर बनी होगी ना की कोई बायोपिक होगी.

फ़िल्मी गलियारे से ये खुलासा हुआ था कि बोनी कपूर अजय देवगन के साथ फिल्म बना रहे हैं जिसमें अजय इंडिया के फुटबॉल कोच सैय्यद अब्दुल रहीम बनने वाले हैं. ये रोल उनके लिए बहुत ही नया होने वाला था. इस नाम से ये भी समझ में आ रहा है कि फिल्म फुटबॉल कोच की बायोपिक है जो जल्दी ही पर्दे पर आएगी और कुछ लोग इसे सही मान कर बैठे हैं. लेकिन आपको बता दें, ये कोई बायोपिक नहीं है बल्कि उससे बहुत अलग होने वाली है.

इस पर टीम के मेंबर ने बताया कि ये फिल्म रहीम की लाइफ पर आधारित नहीं होगी. इस फिल्म में सिर्फ उस सुनहरे समय को दर्शाया जायेगा जिसमें रहीम फुटबॉल के कोच रहे. फिल्म में इसकी कहानी 1951 से शुरू होती है और साल 1962 में खत्म होती है. उसी तरह फिल्म में अजय देवगन एक नायक की भूमिका में नज़र आएंगे जो फिल्म उस समय के स्पेर्ट्स ड्रामा पर बनी होगी ना की कोई बायोपिक होगी.

You May Also Like

English News