अटल के अंतिम दर्शन, BJP दफ्तर के बाहर उमड़ा जनसैलाब; विदेश से भी पहुंच रहे नेता

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अब हमारे बीच नहीं रहे, लेकिन ‘अटल’ व्यक्तित्व वाले वाजपेयी हमेशा देशवासियों की यादों में अमर रहेंगे। लंबे वक्त से मौत से जंग लड़ रहे वाजपेयी का गुरुवार शाम 5.05 बजे दिल्ली के एम्स अस्पताल में निधन हो गया। उनकी मौत की खबर से न सिर्फ हिंदुस्तान बल्कि पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में शोक की लहर है। अटल को अंतिम विदाई देने के लिए जनसैलाब उमड़ पड़ा है, हर कोई इस महान आत्मा के अंतिम दर्शन करना चाहता है। इस बीच अटल का पार्थिव शव भाजपा दफ्तर पहुंच गया है, जहां हजारों के संख्या में लोग उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंचे हैं।अटल के अंतिम दर्शन, BJP दफ्तर के बाहर उमड़ा जनसैलाब; विदेश से भी पहुंच रहे नेता

एक बजे अंतिम यात्रा

दोपहर 01 बजे तक वाजपेयी के शव को अंतिम दर्शन के लिए भाजपा मुख्यालय में रखा जाएगा। जहां नेताओं से लेकर आम जनता भी उनको श्रद्धांजलि देने पहुंच रहे हैं। उसके बाद दोपहर एक बजे उनकी अंतिम यात्रा निकाली जाएगी। फिलहाल वाजपेयी के निवास के बाहर लोगों का जमावड़ा लगा हुआ है। साढ़े आठ बजे तक यहां उनके अंतिम दर्शन किए जा सकेंगे, जिसके बाद भाजपा मुख्यालय में अंतिम दर्शन के लिए उनका पार्थिव शरीर रखा जाएगा। 

You May Also Like

English News