अटल बिहारी का हालचाल लेने पहुंचे थे कई बड़े नेता, AIIMS के आसपास लगा रहा भारी जाम

11 जून से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी ने बृहस्पतिवार शाम 5ः05 बजे अंतिम सांस ली। उनकी तबीयत पिछले कई दिनों से बेहद गंभीर बनी हुई थी। जानकारी के मुताबिक, फिलहाल उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। इस बीच टल बिहारी वाजपेयी का हालचाल लेने वालों का तांता लगा हुआ था। यही वजह है कि एम्स आने-जाने वाले सभी रास्ते भारी जाम की चपेट में रहे।11 जून से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी ने बृहस्पतिवार शाम 5ः05 बजे अंतिम सांस ली। उनकी तबीयत पिछले कई दिनों से बेहद गंभीर बनी हुई थी। जानकारी के मुताबिक, फिलहाल उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। इस बीच टल बिहारी वाजपेयी का हालचाल लेने वालों का तांता लगा हुआ था। यही वजह है कि एम्स आने-जाने वाले सभी रास्ते भारी जाम की चपेट में रहे।     खासकर एम्स के आसपास आइएनए मार्केट, साउथ एक्स, मोती बाग, सरोजनी नगर, धौला कुंआ से एम्स की और जाने वाले रास्तों पर भारी जाम की स्थिति रही। वहीं,  दिल्ली पुलिस के यातायात विभाग ने अलर्ट जारी किया था कि वाहन चालक मूलचंद के रास्ते का इस्तेमाल नहीं करें।     पुलिस के मुताबिक, एम्स में भर्ती अटल बिहारी वाजपेयी को देखने के लिए भाजपा के शीर्ष नेता व केंद्रीय मंत्री सुबह से ही आते रहे, जिसके कारण सुरक्षा कर्मियों को खासी मशक्कत करनी पड़ी। बीच-बीच में एम्स के बाहर जाम लग रहा था।

खासकर एम्स के आसपास आइएनए मार्केट, साउथ एक्स, मोती बाग, सरोजनी नगर, धौला कुंआ से एम्स की और जाने वाले रास्तों पर भारी जाम की स्थिति रही। वहीं,  दिल्ली पुलिस के यातायात विभाग ने अलर्ट जारी किया था कि वाहन चालक मूलचंद के रास्ते का इस्तेमाल नहीं करें।

पुलिस के मुताबिक, एम्स में भर्ती अटल बिहारी वाजपेयी को देखने के लिए भाजपा के शीर्ष नेता व केंद्रीय मंत्री सुबह से ही आते रहे, जिसके कारण सुरक्षा कर्मियों को खासी मशक्कत करनी पड़ी। बीच-बीच में एम्स के बाहर जाम लग रहा था।

You May Also Like

English News