अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे अग्निवेश से धक्कामुक्की

दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय पर पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी का पार्थिव शरीर लोगों के अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है। यहां पर भारी संख्या में समर्थक और चाहने वाले उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं। इस बीच अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम दर्शन करने के लिए पहुंचे विवादित सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश के साथ भीड़ ने धक्का मुक्की की। विरोध के चलते अग्निवेश अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि नहीं दे पाए और उन्हें वापस लौटना पड़ा। दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय पर पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी का पार्थिव शरीर लोगों के अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है। यहां पर भारी संख्या में समर्थक और चाहने वाले उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं। इस बीच अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम दर्शन करने के लिए पहुंचे विवादित सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश के साथ भीड़ ने धक्का मुक्की की। विरोध के चलते अग्निवेश अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि नहीं दे पाए और उन्हें वापस लौटना पड़ा।    यहां पर बता दें कि पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी का 93 साल की उम्र में दिल्ली स्थित एम्स में बृहस्पतिवार को शाम पांच बजकर पांच मिनट पर निधन हो गया। देर रात नौ बजे से उनका पार्थिव शरीर उनके आवास कृष्णा मेनन मार्ग पर रखा गया, जहां उनके अंतिम दर्शन किए गए। शुक्रवार सुबह उनका पार्थिव शरीर अब भारतीय जनता पार्टी मुख्यालय लाया गया है, यहां एक बजे तक लोग उनके अंतिम दर्शन कर सकेंगे। इसके बाद यहां से राष्ट्रीय स्मृति स्थल तक वाजपेयी की अंतिम यात्रा निकाली जाएगी और शाम चार बजे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम संस्कार किया जाएगा।   जनसैलाब के बीच 4 बजे होगा अंतिम संस्कार, अटल की समाधि के किए मिली 1.5 एकड़ जमीन यह भी पढ़ें इससे पहले 17 जुलाई को झारखंड में बंधुआ मुक्ति मोर्चा के संस्थापक व पूर्व राज्यसभा के सदस्य स्वामी अग्निवेश की झारखंड के पाकुड़ के मुस्कान पैलेस होटल के सामने भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने जमकर पिटाई की थी। कार्यकर्ता पाकिस्तान व ईसाई मिशनरी के दलाल स्वामी गो बैक के नारे लगा रहे थे। स्वामी अग्निवेश लिट्टीपाड़ा में पहाड़िया हिल एसेंबली के दामिन दिवस समारोह में भाग लेने आए थे।

अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे अग्निवेश से धक्कामुक्की

यहां पर बता दें कि पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी का 93 साल की उम्र में दिल्ली स्थित एम्स में बृहस्पतिवार को शाम पांच बजकर पांच मिनट पर निधन हो गया। देर रात नौ बजे से उनका पार्थिव शरीर उनके आवास कृष्णा मेनन मार्ग पर रखा गया, जहां उनके अंतिम दर्शन किए गए। शुक्रवार सुबह उनका पार्थिव शरीर अब भारतीय जनता पार्टी मुख्यालय लाया गया है, यहां एक बजे तक लोग उनके अंतिम दर्शन कर सकेंगे। इसके बाद यहां से राष्ट्रीय स्मृति स्थल तक वाजपेयी की अंतिम यात्रा निकाली जाएगी और शाम चार बजे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

इससे पहले 17 जुलाई को झारखंड में बंधुआ मुक्ति मोर्चा के संस्थापक व पूर्व राज्यसभा के सदस्य स्वामी अग्निवेश की झारखंड के पाकुड़ के मुस्कान पैलेस होटल के सामने भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने जमकर पिटाई की थी। कार्यकर्ता पाकिस्तान व ईसाई मिशनरी के दलाल स्वामी गो बैक के नारे लगा रहे थे। स्वामी अग्निवेश लिट्टीपाड़ा में पहाड़िया हिल एसेंबली के दामिन दिवस समारोह में भाग लेने आए थे। 

You May Also Like

English News