बड़ी खबर: ‘अनलकी’ स्कोर लायंस पर पड़ा भारी, नाम किया ये शर्मनाक रिकॉर्ड

NEW DELHI: इंडियन प्रीमियर लीग के 10वें संस्करण के 53वें मैच में सनराइजर्स हैदराबाद ने शनिवार को गुजरात लांयस को आठ विकेट से हरा दिया।बड़ी खबर: 'अनलकी' स्कोर लायंस पर पड़ा भारी, नाम किया ये शर्मनाक रिकॉर्ड

ग्रीन पार्क स्टेडियम में खेले गए मैच में गुजरात ने पहले बल्लेबाजी करते हुए हैदरबाद के सामने 155 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे हैदराबाद ने 18.1 ओवर में दो विकेट खोकर हासिल कर लिया।

इस जीत के साथ ही हैदराबाद ने प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर लिया है। इस मैच में 111 रन बनाना गुजरात लायंस के लिए दुर्भाग्य का कारण बना। बता दें कि क्रिकेट में 111 को अनलकी नंबर माना जाता है। 111 को क्रिकेट में नेल्सन, 222 को डबल नेल्सन और 333 को ट्रिपल नेल्सन कहते हैं।

दरअसल, तीनों स्टंप्स पर से जब बेल्स हटा दिए जाते हैं तब भी 111 को प्रतीत करता है और जब स्टंप्स पर बेल्स नहीं हो तो उसे आउट माना जाता है यही कारण है की क्रिकेटर्स 111 को अनलकी मानते हैं। 

आईपीएल 10 के अपने अंतिम मुकाबले में गुजरात लायंस के लिए ये नंबर वाकई में अनलकी साबित हुआ। गुजरात ने एक वक्त 10.4 ओवर में बगैर कोई विकेट गंवाए 111 रन बना लिए थे।  लेकिन ‘अनलकी’ नंबर पर गुजरात को पहला झटका लगा, जब राशिद खान ने ड्वेन स्मिथ को आउट किया।  

वहीं गुजरात ‘अनलकी’ नंबर पर लगे झटके से उबर नहीं पाया और उसने 8.4 ओवर में महज 43 रन जोड़कर सभी 10 विकेट गंवा दिए। क्रिकेट में नेल्सन को अंपायर डेविड शेफर्ड ने काफी लोकप्रिय बनाया था।  जब भी किसी टीम का स्कोर 111 पहुंचता था,

शेफर्ड अपनी एक टांग हवा में उठा लेते थे। वह ऐसा इसलिए करते थे क्योंकि उनका मानना था 111 अनलकी स्कोर होता है वे इस स्कोर पर या तो एक पैर उठा देते थे या तब तक दोनों पैरों पर खड़े नहीं होते थे, जब तक स्कोर आगे न बढ़ जाए।

You May Also Like

English News