अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा पाक, दो महीनों में 400 से ज्यादा सीजफायर उल्लंघन

पाकिस्तान की ओर से लगातार सीजफायर का उल्लंघन किया जा रहा है और ऐसा माना जा रहा है कि साल 2018 में पिछले 15 सालों का रिकॉर्ड टूट सकता है।  साल 2018 को अभी 2 महीने ही बीते हैं और अभी तक 400 से ज्यादा सीजफायर उल्लंघन हो गए हैं। सीजफायर में शहीद होने वाले भारतीय सैनिकों की संख्या 16 बताई जा रही है, जबकि पाकिस्तान के 23 जवान मारे जा चुके हैं।अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा पाक, दो महीनों में 400 से ज्यादा सीजफायर उल्लंघन

दोनों देशों की सेनाओं की तरफ से 105 एमएम लाइट फील्ड गन्स, 120एमएम हेवी मोर्टार और एंटी-टैंक गाइडिड मिसाइल्स का इस्तेमाल किया जा रहा है। पिछले हफ्ते उरी सेक्टर में बड़ा हमला किया गया था। सर्जिकल स्ट्राइक से बौखलाए पाकिस्तान ने साल 2017 में 860 सीजफायर उल्लंघन किए। 

जम्मू और कश्मीर में 198 किलोमीटर फैले इंटरनेशनल बॉर्डर, 778 किलोमीटर के लाइन ऑफ कंट्रोल और सियाचिन के 110 किलोमीटर फैले बॉर्डर में ज्यादातर सीजफायर उल्लंघन हो रहे हैं। भारत ने एलओसी के क्षेत्र बलनोई, मेंधार, कलाल, डोडा में पाकिस्तानी आर्मी के कई इलाकों को ढेर किया है। सेना का कहना है कि इन इलाकों में करीब 400 आतंकियों को पाकिस्तान का सपोर्ट मिला हुआ है।

उरी हमले के बाद बढ़े सीजफायर उल्लंघन
दरअसल, पिछले साल उरी हमले में कई भारतीय जवान शहीद हो गए थे। भारत ने बदला लेने के लिए पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक की और पाकिस्तानी आर्मी को करारा जवाब दिया। साथ ही कई आतंकियों को ढेर भी किया। अगर सीजफायर उल्लंघन की वजह से 2017 में भारत के 32 जवान शहीद हुए, तो पाकिस्तान के 130-140 जवान मारे गए।

You May Also Like

English News