अपने साथी को बचाने के चक्कर में बंदरों ने ढाई घंटे तक रोकी ट्रेन, देखिए नजारा

बंदरों की उछल कूद की आदत अक्सर लोगों को परेशानी में डाल देती है। बंदरों का ऐसा ही उत्पात दिल्ली-हावड़ा रेलमार्ग पर भी देखा गया जिस वजह से करीब ढाई घंटे तक रेल यातायात बाधित रहा। इलाहाबाद के छिवकी-करछना बीच स्थित एक खंभे पर बंदर भारी संख्या में चढ़ गए। जिस वजह से डाउन लाइन के ओएचई में खराबी आ गई।

बंदरों की इस उछल कूद में एक बंदर को करंट लग गया और वो झुलस गया। फिर क्या था आसपास मौजूद सभी बंदर अपने साथी बंदर को देख रेलवे ट्रैक पर जमे रहे। ये घटना करीब शाम 4:15 बजे की है। बंदरों के रेलवे ट्रैक पर इकट्ठा होने की वजह से पूरा रेल रुट प्रभावित हो गया। 

इसके साथ ही बंदरों को ट्रैक से हटाना भी रेलवे विभाग के सामने किसी परेशानी से कम नहीं था।ट्रैक पर भारी संख्या में बंदरों की उपस्थिति की वजह से ट्रेनों का यातायात घंटों प्रभावित रहा। जिसका सीधा असर रेल यात्रियों पर पड़ा। 

 

रेल प्रशासन ने कई ट्रेनों के रुट को बदला। इस दौरान इलाहाबाद जंक्शन पर नंदन कानन एक्सप्रेस, रांची संपर्क क्रांति, सीमांचल एक्सप्रेस, काशी एक्सप्रेस, नार्थ ईस्ट के अलावा कई ट्रेनों को रोका गया। हालांकि ढाई घंटे में रेल संचालन सामान्य हो जाने के बाद अफसरों ने भी राहत भरी सांस ली। 

 

You May Also Like

English News