अफगानिस्तान के फराह शहर पर तालिबान का हमला

अफगानिस्तान में तालिबान अपनी जड़ें मजबूत करने में लगा है। ईरान की सीमा से लगे फराह शहर में बुधवार रात को तालिबान लड़ाके अपनी सुरक्षित पनाहगाहों से बाहर निकले और अचानक सुरक्षा बलों को निशाना बनाकर गोलियों की बौछार शुरू कर दी। दोनों ओर से भीषण गोलीबारी गुरुवार सुबह तक जारी रही।अफगानिस्तान में तालिबान अपनी जड़ें मजबूत करने में लगा है। ईरान की सीमा से लगे फराह शहर में बुधवार रात को तालिबान लड़ाके अपनी सुरक्षित पनाहगाहों से बाहर निकले और अचानक सुरक्षा बलों को निशाना बनाकर गोलियों की बौछार शुरू कर दी। दोनों ओर से भीषण गोलीबारी गुरुवार सुबह तक जारी रही।  इससे पहले अत्याधुनिक हथियारों से लैस तालिबान लड़ाकों ने मंगलवार को अचानक हमला कर फराह को लगभग अपने कब्जे में कर लिया था। उन्हें खदेड़ने के लिए अफगान सुरक्षा बलों को अमेरिका के युद्धक विमानों की मदद लेनी पड़ी थी।  सुरक्षा बलों को लगा था कि आतंकी शहर छोड़कर भाग गए हैं। लेकिन वह शहर में ही अपनी पनाहगाहों में छुपकर खुद को मजबूत करने में लगे थे। बुधवार रात को उन्होंने छतों से सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की।  अचानक हुए इस हमले के दौरान एक आतंकी ने पुलिस मुख्यालय के समीप आत्मघाती हमले को भी अंजाम दिया। गोलीबारी अब रुक गई है लेकिन एहतियात के तौर पर शहर के सभी स्कूल बंद कर दिए गए हैं। आतंकियों और सुरक्षा बलों की इस जंग से स्थानीय लोग दहशत में हैं।

इससे पहले अत्याधुनिक हथियारों से लैस तालिबान लड़ाकों ने मंगलवार को अचानक हमला कर फराह को लगभग अपने कब्जे में कर लिया था। उन्हें खदेड़ने के लिए अफगान सुरक्षा बलों को अमेरिका के युद्धक विमानों की मदद लेनी पड़ी थी।

सुरक्षा बलों को लगा था कि आतंकी शहर छोड़कर भाग गए हैं। लेकिन वह शहर में ही अपनी पनाहगाहों में छुपकर खुद को मजबूत करने में लगे थे। बुधवार रात को उन्होंने छतों से सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की।

अचानक हुए इस हमले के दौरान एक आतंकी ने पुलिस मुख्यालय के समीप आत्मघाती हमले को भी अंजाम दिया। गोलीबारी अब रुक गई है लेकिन एहतियात के तौर पर शहर के सभी स्कूल बंद कर दिए गए हैं। आतंकियों और सुरक्षा बलों की इस जंग से स्थानीय लोग दहशत में हैं।

You May Also Like

English News