अफगानिस्तान: तालिबानी हमले में मारे गए 15 सुरक्षाकर्मी

अफगानिस्तान में एक बार फिर तालिबानी आतंकियों ने अपना कहर बरपाना शुरू कर दिया है. ताजा घटना कुंडूज प्रांत से आई है जहां एक शिक्षा विभाग की इमारत पर तालिबानी आतंकवादियों ने हमला कर कई सुरक्षाबलों को अपना शिकार बना लिया. बताया जा रहा है कि इस बड़े हमले में 15 सुरक्षाकर्मीयो की मौत हो गई है और कई अन्य घायल भी हुए है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हमलावरों ने जलालाबाद स्थित शिक्षा विभाग की इमारत पर हमला किया. बताया जा रहा है कि मुठभेड़ अभी भी जारी है और एक बंदूकधारी ताबड़तोड़ गोलियां बरसा रहा है.अफगानिस्तान में एक बार फिर तालिबानी आतंकियों ने अपना कहर बरपाना शुरू कर दिया है. ताजा घटना कुंडूज प्रांत से आई है जहां एक शिक्षा विभाग की इमारत पर तालिबानी आतंकवादियों ने हमला कर कई सुरक्षाबलों को अपना शिकार बना लिया. बताया जा रहा है कि इस बड़े हमले में 15 सुरक्षाकर्मीयो की मौत हो गई है और कई अन्य घायल भी हुए है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हमलावरों ने जलालाबाद स्थित शिक्षा विभाग की इमारत पर हमला किया. बताया जा रहा है कि मुठभेड़ अभी भी जारी है और एक बंदूकधारी ताबड़तोड़ गोलियां बरसा रहा है.  बता दें कि शनिवार को अफगानिस्तान में तालिबान द्वारा किए गए हमले में 19 सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई, जबकि कई पुलिस कर्मी घायल भी बताए जा रहे है. एक न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक तालिबानी आतंकियों ने सैन्य बेस पर हमला किया. अचानक हुए इस हमले में 19 पुलिसकर्मी शहीद हो गए. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कुछ ही घंटों पहले ईद के मौके पर अफगानिस्तान सरकार द्वारा सीजफायर के ऐलान की घोषणा की थी. हालांकि तालिबान ने सीजफायर का उन्लंघन कतरे हुए इस बड़ी घटना को अंजाम दिया है.  अफगान सरकार ने सैकड़ों धार्मिक विद्वानों द्वारा जारी एक ऐतिहासिक निर्णय की प्रतिक्रिया में तालिबान के साथ आठ दिवसीय संघर्षविराम का ऐलान किया था. राष्ट्रपति मोहम्मद अशरफ गनी ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि 'संघर्षविराम रमजान के 27वें दिन (13 जून) से शुरू होकर ईद उल फितर के पांचवें दिन तक जारी रहेगा'.

बता दें कि शनिवार को अफगानिस्तान में तालिबान द्वारा किए गए हमले में 19 सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई, जबकि कई पुलिस कर्मी घायल भी बताए जा रहे है. एक न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक तालिबानी आतंकियों ने सैन्य बेस पर हमला किया. अचानक हुए इस हमले में 19 पुलिसकर्मी शहीद हो गए. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कुछ ही घंटों पहले ईद के मौके पर अफगानिस्तान सरकार द्वारा सीजफायर के ऐलान की घोषणा की थी. हालांकि तालिबान ने सीजफायर का उन्लंघन कतरे हुए इस बड़ी घटना को अंजाम दिया है.

अफगान सरकार ने सैकड़ों धार्मिक विद्वानों द्वारा जारी एक ऐतिहासिक निर्णय की प्रतिक्रिया में तालिबान के साथ आठ दिवसीय संघर्षविराम का ऐलान किया था. राष्ट्रपति मोहम्मद अशरफ गनी ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि ‘संघर्षविराम रमजान के 27वें दिन (13 जून) से शुरू होकर ईद उल फितर के पांचवें दिन तक जारी रहेगा’.

You May Also Like

English News