अफ्रीका में प्रैक्टिस से ज्यादा हुई शॉपिंग, क्या इस तरह जीतेंगे सीरीज?

साउथ अफ्रीका की धरती पर 25 साल बाद इतिहास रचने का सपना देख रही टीम इंडिया की उम्मीदों को बड़ा झटका लगा है. केपटाउन में खेले गए तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले ही मुकाबले में मेजबान टीम से विराट ब्रिगेड को 72 रनों से करारी हार का सामना करना पड़ा है.अफ्रीका में प्रैक्टिस से ज्यादा हुई शॉपिंग, क्या इस तरह जीतेंगे सीरीज?

जानिए, क्रिकेट जगत की बड़ी ख़बरों का लेखा-जोखा : 09 दिसंबर, 2018

साउथ अफ्रीका अब टेस्ट सीरीज में 1-0 से आगे है और यहां से टीम इंडिया के लिए वापसी करना इतना आसान नहीं होगा. केपटाउन में टीम इंडिया के पास जीत का सुनहरा मौका था, लेकिन बल्लेबाजों के निराशाजनक प्रदर्शन के कारण वह न्यूलैंड्स के मैदान पर पहली जीत दर्ज से चूक गई.

टीम इंडिया के इस प्रदर्शन से अब ये सवाल उठने लगे हैं कि क्या विराट की सेना साउथ अफ्रीका में गेंदबाजों के अनुकूल परिस्थितियों में खेलने के लिए पूरी तरह तैयार थी, या फिर टीम इंडिया भूल गई थी कि यहां उन्होंने 25 साल से सिर्फ दो मैच ही जीते हैं.

प्रैक्टिस से ज्यादा हुई शॉपिंग

अफ्रीका के इस मुश्किल दौरे से पहले टीम इंडिया को दो दिवसीय अभ्यास मैच खेलने का मौका मिला था, जिसे रद्द कर दिया गया. भारतीय टीम मैनेजमेंट ने उस समय यह तर्क दिया था कि अभ्यास मैच की बजाय नेट प्रैक्टिस से टीम इंडिया को बेहतर तैयारियों में मदद मिलेगी. 

लेकिन टेस्ट सीरीज से पहले भारतीय खिलाड़ियों की प्रैक्टिस से ज्यादा शॉपिंग और घूमना-फिरना सुर्खियों में रहा. जाहिर है यह साउथ अफ्रीका के मुश्किल दौरे से पहले आदर्श तैयार नहीं थी जो टीम इंडिया के लिए महंगी साबित हुई.

0-1 से पिछड़ने के बाद सिर्फ 1 बार ही सीरीज जीती है मेहमान टीम

आपको बता दें कि साउथ अफ्रीका दौरे पर टेस्ट सीरीज में 0-1 से पिछड़ने के बाद सिर्फ एक बार किसी मेहमान टीम ने सीरीज फतह की है. साल 1922-23 में इंग्लैंड की टीम पहला टेस्ट मैच हारने के बावजूद 5 मैचों की टेस्ट सीरीज 2-1 से जीतने में कामयाब रही है. ऐसे में अब भारत के सामने मुश्किल चुनौती है.

You May Also Like

English News