अब इस दिग्गज ने विराट को बताया महान बल्लेबाज, जताई ये ख्वाहिश

2011 में क्रिकेट वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम के कोच रहे गैरी कर्स्टन ने विराट कोहली की जमकर तारीफ की है।2011 में क्रिकेट वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम के कोच रहे गैरी कर्स्टन ने विराट कोहली की जमकर तारीफ की है।  गैरी ने कहा कि, "विराट में क्रिकेट सीखने की जो ललक है, वो ही उनके खेल को निखार रही है और मौजूदा दौर के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार करती है।"  कर्स्टन दिल्ली में मौजूद थे और यहां अपनी प्रस्तावित एकेडमी के लिए युवा टैलेंट ढूंढने पहुंचे थे। इस दौरान बातचीत में कर्स्टन ने कहा कि, वो विराट कोहली के साथ काम करना चाहते हैं और उन्हें उम्मीद है कि इस साल भारत के इंग्लैंड दौरे में रोमांचक क्रिकेट देखने को मिलेगी।  गैरी कर्स्टन ने बोला कि, "कोहली महान क्रिकेटर हैं। वो लगातार अपने खेल को बेहतर करते जा रहे हैं। इसलिए मैं उनके साथ काम करना चाहता हूं। क्योंकि वो अपने खेल को हर वक्त निखारने की कोशिशों में जुटे रहते हैं। एक महान खिलाड़ी की यही निशानी होती है।"  इस दौरान जब कर्स्टन से T-20 क्रिकेट के आने से पारंपरिक खेल पर क्या असर पड़ा है, उससे जुड़ा सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि," T-20 फॉर्मेट युवाओं को काफी लुभाता है। मैं खुद भी T-20 क्रिकेट को पसंद करता हूं। मेरे बच्चे भी T-20 क्रिकेट को काफी पसंद करते हैं। मगर इसके बावजूद टेस्ट क्रिकेट हमेशा बरकरार रहेगा। ये खेल का सबसे पुराना फॉर्मेट है। ऐसे में जो लोग इसे देखते हुए बड़े हुए हैं, वो हमेशा इसे पसंद करेंगे। मगर इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया को छोड़ दें तो बाकी देशों में टेस्ट क्रिकेट की लोकप्रियता कम हो रही है, जो चिंता की बात है।"  गैरी कर्स्टन इस आईपीएल सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से जुड़े हैं। मगर उनकी टीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है। जब कर्स्टन से टीम के खराब प्रदर्शन के बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने साफ-साफ कुछ नहीं कहा।  कर्स्टन ने कहा कि, "ये इस टीम के साथ मेरा पहला साल है। अब तक इस टीम का साथ मेरे लिए अच्छा रहा है। कर्स्टन ने कहा कि, एक फ्रेंचाइजी टीम और अंतरराष्ट्रीय टीम को कोचिंग देना बहुत अलग काम होता है और मैं टीम का मुख्य कोच नहीं, असिस्टेंट कोच हूं।"  इस सीजन में आरसीबी अपने दस मैच में से केवल तीन ही जीत सकी है और अंकतालिका में सातवें स्थान पर है।

गैरी ने कहा कि, “विराट में क्रिकेट सीखने की जो ललक है, वो ही उनके खेल को निखार रही है और मौजूदा दौर के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार करती है।”

कर्स्टन दिल्ली में मौजूद थे और यहां अपनी प्रस्तावित एकेडमी के लिए युवा टैलेंट ढूंढने पहुंचे थे। इस दौरान बातचीत में कर्स्टन ने कहा कि, वो विराट कोहली के साथ काम करना चाहते हैं और उन्हें उम्मीद है कि इस साल भारत के इंग्लैंड दौरे में रोमांचक क्रिकेट देखने को मिलेगी।

गैरी कर्स्टन ने बोला कि, “कोहली महान क्रिकेटर हैं। वो लगातार अपने खेल को बेहतर करते जा रहे हैं। इसलिए मैं उनके साथ काम करना चाहता हूं। क्योंकि वो अपने खेल को हर वक्त निखारने की कोशिशों में जुटे रहते हैं। एक महान खिलाड़ी की यही निशानी होती है।”

इस दौरान जब कर्स्टन से T-20 क्रिकेट के आने से पारंपरिक खेल पर क्या असर पड़ा है, उससे जुड़ा सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि,” T-20 फॉर्मेट युवाओं को काफी लुभाता है। मैं खुद भी T-20 क्रिकेट को पसंद करता हूं। मेरे बच्चे भी T-20 क्रिकेट को काफी पसंद करते हैं। मगर इसके बावजूद टेस्ट क्रिकेट हमेशा बरकरार रहेगा। ये खेल का सबसे पुराना फॉर्मेट है। ऐसे में जो लोग इसे देखते हुए बड़े हुए हैं, वो हमेशा इसे पसंद करेंगे। मगर इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया को छोड़ दें तो बाकी देशों में टेस्ट क्रिकेट की लोकप्रियता कम हो रही है, जो चिंता की बात है।”

गैरी कर्स्टन इस आईपीएल सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से जुड़े हैं। मगर उनकी टीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है। जब कर्स्टन से टीम के खराब प्रदर्शन के बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने साफ-साफ कुछ नहीं कहा।

कर्स्टन ने कहा कि, “ये इस टीम के साथ मेरा पहला साल है। अब तक इस टीम का साथ मेरे लिए अच्छा रहा है। कर्स्टन ने कहा कि, एक फ्रेंचाइजी टीम और अंतरराष्ट्रीय टीम को कोचिंग देना बहुत अलग काम होता है और मैं टीम का मुख्य कोच नहीं, असिस्टेंट कोच हूं।”

इस सीजन में आरसीबी अपने दस मैच में से केवल तीन ही जीत सकी है और अंकतालिका में सातवें स्थान पर है।

You May Also Like

English News