अब एसिड एटैक पीड़िता लक्ष्मी बयां करेंगी अपनी दर्दनाक कहानी, जीवन पर आधारित बनेगी फिल्म

16 साल की उम्र में एसिड अटैक की शिकार हुई दिल्ली की लक्ष्मी अग्रवाल की कहानी जल्द ही बड़े पर्दे पर दिखाई देगी।अब एसिड एटैक पीड़िता लक्ष्मी बयां करेंगी अपनी दर्दनाक कहानी, जीवन पर आधारित बनेगी फिल्मअभी-अभी: सोमालिया की राजधानी में हुआ बम विस्फोट, मृतकों की संख्या बढ़ी…

फिल्म डायरेक्टर मेघना गुलजार जल्द ही लक्ष्मी के जीवन पर आधारित फिल्म बनाने जा रही हैं। इससे पहले उन्होंने फिल्म तलवार बनाई थी, जिसे दर्शकों ने काफी सराहा था।

रविवार को इकोल ग्लोबल इंटरनेशनल गर्ल्स स्कूल के छठे स्थापना पर बतौर विशिष्ट अतिथि पहुंची लक्ष्मी अग्रवाल ने अमर उजाला को बताया कि करीब 16 साल की उम्र में 30 साल के एक व्यक्ति ने दिल्ली में उनके चेहरे पर तेजाब डाल दिया था।

हादसे में उनका पूरा चेहरा झुलस गया था। ऑपरेशन के दौरान घंटों पीड़ा सहनी पड़ी थी। लेकिन, इस दर्दनाक हादसे के बाद भी मैंने हार नहीं मानी। अपनी तरह अन्य एसिड अटैक पीड़िताओं के लिए सुप्रीम कोर्ट तक लड़ाई लड़ी।

उन्हें जोड़ने के लिए उत्तर प्रदेश के आगरा से शीरोज अभियान शुरू किया। जो अब कई राज्यों में शुरू हो चुका है। इसमें एसिड अटैक पीड़िता शामिल हैं। बताया कि पहले एसिड अटैक से पीड़ित महिला-पुरुष खुद को समाज से अलग कर लेते थे। घुटन भरी जिंदगी जीते थे। लेकिन, अब हालात बदल चुके हैं। वह अपने इलाज के लिए सरकार की ओर मुंह नहीं ताकते, बल्कि खुद ही अपना इलाज कराते हैं।

उन्होंने माना कि पुरुषों की तुलना में पीड़ित किशोरी, युवती और महिलाओं को ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने बताया कि फिल्म डायरेक्टर मेघना गुलजार ने उनसे मुलाकात की। उन्होंने उनके जीवन पर फिल्म बनाने की बात कही है। जल्द ही इस पर काम शुरू हो जाएगा। उम्मीद है कि अगले साल यह फिल्म बड़े पर्दे पर दिखाई देगी। इससे पहले मेघना गुलजार ने तलवार फिल्म बनाई थी। 

खुलेआम एसिड बिक्री पर जताई नाराजगी
देहरादून। लक्ष्मी अग्रवाल ने खुलेआम एसिड बिक्री पर नाराजगी जताई। साथ ही एसिड अटैक के मामलों की सुनवाई के लिए फास्ट ट्रैक  कोर्ट बनाए जाने की भी बात कही। बताया कि दिल्ली सरकार नौकरी में एसिड अटैक पीड़ितों को आरक्षण देने पर में विचार कर रही है। 

You May Also Like

English News