अब नशे की लत को छुड़ायेगी ये थेरेपी

अधिक नशा करना सेहत के लिए हानिकारक होता है जिसके लिए हमे सभी मना करते हैं. लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं जो इस बात को नहीं मानते और नशे का सेवन जबरदस्त तरीके से कर लेते हैं जिससे उन्हें परेशानी होने लगती है. लेकिन आपको बता दें अब वैज्ञानिकों ने ऐसी चीज़ खोजी है जिससे आपका नशा तुरंत उतर जायेगा. जी हाँ, ऐसी ही चीज़ के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में सुनकर आप भी हैरान रह जायेंगे.देखा जाता है जब भी कोई व्यक्ति नशा करता है तो उसमें नशा की करने की आदत बढ़ती जाती है और दिमाग उसी तरफ तेज़ी से भागता है. इसके बाद वो चाहकर भी खुद को नहीं रोक पाते. आपको बता दें दिमाग में एक रसायन होता है जिसे सिरोटोनिन कहते हैं जो इसमें मुख्य भूमिका का निभाता है. इस पर शोध कर्ताओं ने पाया कि जो लोग नशे के आदी होते हैं उनमे सेरोटोनिन 2सी रिसेप्टर ठीक प्रकार से काम नहीं करता जैसा वो आम तौर पर करता है. इसी के बाद कई प्रयोगों को करने से ये पता चला कि ये नया रसायन नशे से हुए दिमाग के असंतुलन को ठीक करने में सहायक है.देखा जाता है जब भी कोई व्यक्ति नशा करता है तो उसमें नशा की करने की आदत बढ़ती जाती है और दिमाग उसी तरफ तेज़ी से भागता है. इसके बाद वो चाहकर भी खुद को नहीं रोक पाते. आपको बता दें दिमाग में एक रसायन होता है जिसे सिरोटोनिन कहते हैं जो इसमें मुख्य भूमिका का निभाता है. इस पर शोध कर्ताओं ने पाया कि जो लोग नशे के आदी होते हैं उनमे सेरोटोनिन 2सी रिसेप्टर ठीक प्रकार से काम नहीं करता जैसा वो आम तौर पर करता है. इसी के बाद कई प्रयोगों को करने से ये पता चला कि ये नया रसायन नशे से हुए दिमाग के असंतुलन को ठीक करने में सहायक है.

नशा करने वाले लोग जब ज्यादा नशा करने लगते हैं तो उनके दिमाग का संतुलन उसी तरफ बढ़ने लगता है और इसके गलत परिणाम को देखते हुए भी इसका नशा छोड़ नहीं पाते. लेकिन अब एक ऐसी थेरेपी आ गई है जिससे आपका नशा भी उतरेगा और आपका दिमागी संतुलन ठीक रहेगा. ये खास उन लोगों के लिए बनाया गया है जो नशे के आदी हो चुके हैं. बता दें इस शोध का परिणाम जर्नल ऑफ मेडिसिनल केमिस्ट्री में प्रकाशित किया गया है. इस शोध को पहले चूहों पर इस्तेमाल किया गया और ये नशे की लत को कम करने में सफल हुआ है.

देखा जाता है जब भी कोई व्यक्ति नशा करता है तो उसमें नशा की करने की आदत बढ़ती जाती है और दिमाग उसी तरफ तेज़ी से भागता है. इसके बाद वो चाहकर भी खुद को नहीं रोक पाते. आपको बता दें दिमाग में एक रसायन होता है जिसे सिरोटोनिन कहते हैं जो इसमें मुख्य भूमिका का निभाता है. इस पर शोध कर्ताओं ने पाया कि जो लोग नशे के आदी होते हैं उनमे सेरोटोनिन 2सी रिसेप्टर ठीक प्रकार से काम नहीं करता जैसा वो आम तौर पर करता है. इसी के बाद कई प्रयोगों को करने से ये पता चला कि ये नया रसायन नशे से हुए दिमाग के असंतुलन को ठीक करने में सहायक है.

 

You May Also Like

English News