अब AMU और BHU से जल्द हटाया जा सकता है ‘हिंदू’ व ‘मुस्लिम’ शब्द

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) और बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी के नाम से जल्द ही हिंदू और मुस्लिम शब्द हटाए जा सकते हैं. दरअसल सेंट्रल यूनिवर्सिटीज़ को लेकर की गई एक सरकारी ऑडिट में ये शब्द हटाने की सलाह की गई है.अब AMU और BHU से जल्द हटाया जा सकता है 'हिंदू' व 'मुस्लिम' शब्दकांशीराम: नौकरी छोड़ चुनी दलितों के लिए लड़ाई की राह, फिर बनी बसपा

विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने 10 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में कथित अनियमितता की शिकायतों की जांच के लिए  मानव संसाधन मंत्रालय के निर्देश पर 25 अप्रैल को पांच कमेटियां गठित की थी. इसी में एक समिति ने विश्‍वविद्यालयों का सेक्‍युलर चरित्र को प्रदर्शित करने के मकसद से ये धर्मसूचक शब्द हटाने की सिफारिश की है.

एएमयू और बीएचयू के अलावा पांडिचेरी यूनिवर्सिटी, इलाहाबाद यूनिवर्सिटी, उत्‍तराखंड की हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल यूनिवर्सिटी, झारखंड की सेंट्रल यूनिवर्सिटी, राजस्‍थान की सेंट्रल यूनिवर्सिटी, जम्‍मू की सेंट्रल यूनिवर्सिटी, वर्धा का महात्‍मा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय हिन्‍दी विश्‍वविद्यालय, त्रिपुरा की सेंट्रल यूनिवर्सिटी, मध्‍य प्रदेश की हरि सिंह गौर यूनिवर्सिटी का भी ‘शैक्षिक, शोध, वित्‍तीय और मूलभूत संरचना ऑडिट’ कराया गया है. 

अखबार के मुताबिक, समिति को इन विश्वविद्यालयों  में अकादमिक, अनुसंधान और वित्तीय संचालन के अलावा इनके बुनियादी ढांचों की ऑडिट करनी थी. ऐसे में एएमयू की ऑडिट कर रही समिति ने सुझाव दिया कि संस्‍थान को या तो सिर्फ ‘अलीगढ़ यूनिवर्सिटी ‘ कहा जाए या फिर इसका नाम इसके संस्‍थापक सर सैयद अहमद खान के नाम पर रख दिया जाए. रिपोर्ट के मुताबिक, बीएचयू के मामले में भी ऐसी ही शिफारिश की गई है. 

You May Also Like

English News