अभी अभी: अपने काम से सीएम योगी ने दिखाया अपना दम, कर डाला सबसे बड़ा…

उत्तर प्रदेश में मिट्टी के भाव बिक रहे आलू को खरीद कर किसानों को राहत देगी योगी सरकार। सरकार ने 487 रुपये क्विंटल की दर से एक लाख मीट्रिक टन आलू खरीदने का लक्ष्य तय किया है। यह खरीद भारत सरकार की नेफेड संस्था, उप्र की पीसीएफ, यूपीएग्रो तथा नाफेड द्वारा की जाएगी।मुख्य सचिव राहुल भटनागर ने कहा, “इन्हीं क्रय केंद्रों के माध्यम से किसानों का फेयर एवरेज क्वालिटी (एफएक्यू) का आलू क्रय हो सकेगा। प्रदेश में 1708 शीतगृह हैं, जिसमें 130 लाख मीट्रिक टन की भंडारण क्षमता है। अभी तक 95 लाख मीट्रिक टन ही भंडार हो चुका है।”

वहीं दूसरी ओर योगी सरकार के एक और फैसले के तहत प्रदेश में तेजाब विक्रेताओं को 15 दिन के भीतर तेजाब के स्टॉक की रिपोर्ट संबंधित उपजिला मजिस्ट्रेट को देनी होगी। ऐसा न करने वाले विक्रेताओं पर 50 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया जाएगा। अधिकारी मौके पर स्टाक का निरीक्षण एवं हर माह की सात तारीख को बैठक कर ब्यौरा गृह विभाग को सौपेंगे।

इस बारे में मुख्य सचिव राहुल भटनागर ने जिलाधिकारियों को पत्र जारी किए हैं। इसमें तेजाब विक्रेताओं को तेजाब खरीदने वाले का पूरा ब्यौरा रजिस्टर में अंकित करने के साथ ही उसके फोटोयुक्त पहचान पत्र की प्रति सुरक्षित रखने के भी आदेश दिए गए हैं।

You May Also Like

English News