अभी अभी: आतंकवाद से मुकाबले के लिए एससीओ में शामिल होगा भारत, PM मोदी हुए अस्ताना के लिए रवाना

भारत आतंकवाद से मुकाबला करने के लिए आज शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की पूर्ण सदस्यता ले सकता है। शंघाई सहयोग संगठन 6 देशों का एक समुह है जो केंद्रिय एशिया और अफगानिस्तान में शांति बनाएं रखने के लिए काम करता है। 

दो रुपए का ये सिक्का बना सकता हैं आपको करोड़पति बस करें ये आसान सा कामअभी अभी: आतंकवाद से मुकाबले के लिए एससीओ में शामिल होगा भारत, PM मोदी हुए अस्ताना के लिए रवाना

ब्रेकिंग न्यूज़: 17 जुलाई को MP-MLA करेंगे 4896, राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट, 20 को आएगा नतीजा

पीएम मोदी आज एससीओ समिट के लिए कजाकिस्तान की राजधानी अस्ताना के लिए रवाना हो चुके हैं। एससीओ समिट में कजाकिस्तान, चीन के अलाव इस समूह में शामिल कीर्गिस्तान, रूस, तजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान भी हिस्सा लेंगे। समिट में भारत और पाकिस्तान को इस समूह में शामिल किया जाएगा। 

इस समिट में भारत के प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और चाइनिज राष्ट्रपति शी जिनपिंग शामिल होंगे। बता दें कि इस संगठन को 1996 में बनाया गया था 6 पूर्ण सदस्यों को छोड़कर, भारत और पाकिस्तान समेत बेलारूस, अफगानिस्तान, ईरान और मंगोलिया को इसमें निरिक्षक का दर्जा दिया हुआ था। 

प्रधानमंत्री मोदी ने अस्ताना रवाना होने से पहले कहा कि मैं भारत को एससीओ से जोड़ने की कोशिश कर रहा हू, जिससे हमें एशियाई देशों से आर्थिक रूप से जुड़ने और आतंकवाद से निपटने में मदद मिलेगी। 

You May Also Like

English News