अभी अभी: इस बयान से उमा भारती फांसी पर लटकने के लिए हुई तैयारः मचा हडकंप…

केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने कहा कि राम मंदिर आस्था का मुद्दा है। फिलहाल यह मसला सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है और शीर्ष अदालत ने दोनों पक्षों को आपस में सुलह के जरिये इसे तय करने के लिए कहा है। राम मंदिर के लिए यदि उन्हें जेल जाना पड़े या फांसी पर लटकना पड़े तो वह भी उन्हें सहर्ष स्वीकार है।उन्होंने कहा कि तीन तलाक का मुद्दा महिलाओं और समाज के खिलाफ है। गंगा को प्रदूषण से निजात दिलाने के लिए राज्य सरकार कानपुर और कन्नौज की चमड़ा उद्योग इकाइयों को चरणबद्ध तरीके से अन्यत्र स्थानांतरित करेगी।

नमामि गंगे परियोजना को धार देने व प्रदेश में सिंचाई व्यवस्था में सुधार पर चर्चा के लिए शनिवार को बातचीत करने आयीं उमा भारती व उनकी टीम से मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्हें यह जानकारी दी। बुंदेलखंड में तालाबों को जोड़ें उमा भारती ने मुख्यमंत्री को सुझाव दिया कि बुंदेलखंड में चंदेलों और बुंदेलों के समय में बनाये गए तालाबों को आपस में जोड़ने से वहां पानी की समस्या से निजात पाने में मदद मिलेगी।

सिंचाई व्यवस्था सुधारने को केंद्र देगा 15 हजार करोड़ मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद मीडिया से मुखातिब उमा भारती ने बताया कि केंद्र सरकार उत्तर प्रदेश में सिंचाई व्यवस्था सुधारने और नदियों की सफाई के लिए 15 हजार करोड़ रुपए देने को तैयार है। केंद्र सरकार मई तक उप्र को 7000 करोड़ रुपए की धनराशि जारी कर देगी।

पहले तय हो बुंदेलखंड का भूगोल

अलग बुंदेलखंड राज्य के सवाल पर उमा भारती ने कहा यह प्रस्ताव राज्य पुनर्गठन आयोग के सामने आएगा। चूंकि मध्य प्रदेश के लोग पृथक बुंदेलखंड नहीं चाहते हैं, इसलिए पहले बुंदेलखंड का भूगोल तय होना चाहिए। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार छोटे राज्यों की पक्षधर है।

 

You May Also Like

English News