अभी-अभी: इस महान गेंदबाज ने दिया बड़ा बयान, कहा-‘मुझे नहीं लगता कि ICC में BCCI को मनाने का दम नहीं

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व महान तेज गेंदबाज वसीम अकरम ने शुक्रवार को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) पर भड़ास निकाली है। अकरम का मानना है कि आईसीसी इतनी क्षमता नहीं दिखाता कि बीसीसीआई को पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय सीरीज खेलने के लिए मना ले। अभी-अभी: इस महान गेंदबाज ने दिया बड़ा बयान, कहा-'मुझे नहीं लगता कि ICC में BCCI को मनाने का दम नहीं

अभी-अभी: टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर का हुआ निधन, चेन्नई में ली आखिरी सांस

‘स्विंग के सुल्तान’ के नाम से मशहूर अकरम ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि पाकिस्तान और भारत के युवा खिलाड़ी एक-दूसरे के खिलाफ नहीं खेल पा रहे हैं। 51 वर्षीय अकरम ने आईसीसी पर अपनी भड़ास निकालते हुए कहा कि क्रिकेट की सबसे बड़ी संस्था ने भारत-पाकिस्तान सीरीज को लेकर पहल नहीं की, जिसे राजनीती से दूर रखा जा सकता है।  

अकरम के हवाले से जियो टीवी ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि आईसीसी में बीसीसीआई को मनाने की शक्ति है, लेकिन मैंने हमेशा कहा है कि लोगों के बीच बातचीत होना जरूरी है। राजनीती और खेल को अलग-अलग रखना चाहिए।’

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने साथ ही कहा कि टीम इंडिया और पाकिस्तान के बीच की सीरीज पारंपरिक प्रतिद्वंद्वी ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच होने वाली एशेज सीरीज से भी रोमांचक होती है। 356 वन-डे में 502 विकेट लेने वाले अकरम ने कहा, ‘भारत-पाकिस्तान के मुकाबले एशेज सीरीज से महत्वपूर्ण होते हैं। 2 करोड़ लोग एशेज सीरीज देखते हैं जबकि भारत-पाकिस्तान मैच अरबों लोग देखते हैं।’

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने 2014 में पाकिस्तान के साथ 2015-2023 के बीच 6 द्विपक्षीय सीरीज खेलने की मंजूरी दी थी, जिसमें से चार सीरीज की मेजबानी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को करना थी। हालांकि, सीमा पर राजनीती चिंता के चलते बीसीसीआई ने सभी सीरीज खेलने से इंकार कर दिया। फिर चाहे वो सीरीज पाकिस्तान में खेली जा रही हो या फिर किसी तठस्थ स्थान पर। चिर-प्रतिद्वंद्वियों के बीच मुकाबला आईसीसी टूर्नामेंट्स में जरूर देखने को मिलता है।

You May Also Like

English News