अभी अभी: इस शख्स ने विधानभवन को बम से उड़ाने की दी धमकी, कहा- बचा सको तो बचा लो’

चिनहट इलाके से एक व्यक्ति ने शुक्रवार रात पुलिस कंट्रोल रूम कॉल करके विधानभवन को बम से उड़ाने की धमकी दी। बोला कि बम रख दिया है, बचा सको तो बचा लो।अभी अभी: इस शख्स ने विधानभवन को बम से उड़ाने की दी धमकी, कहा- बचा सको तो बचा लो'सीएम योगी का बड़़ा बयान पड़ोसी देशों की विदेश नीति में शामिल है आतंकवाद!

इसके साथ काफी देर तक पुलिसकर्मी से गालीगलौज करके फोन काट दिया। कॉल डिटेल खंगालने पर पता चला कि महीना भर में अनेक थानेदारों व पुलिस अधिकारियों के सीयूजी नंबर पर कॉल करके गालीगलौज कर चुका है।

पुलिस ने इलेक्ट्रानिक सर्विलांस से लोकेशन ट्रेस करके शनिवार रात उसे पकड़ा। हत्थे चढ़ने पर खुद को इंसाफ पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बताते हुए बोला कि सरकार बनी तो हर मुकदमे का सात दिन में फैसला होगा। पुलिस ने पूछताछ के साथ उसे मानसिक अस्पताल भेजने की तैयारी की है।
 
एसओ चिनहट अंजनी कुमार पांडेय ने बताया कि अज्ञात व्यक्ति ने पुलिस कंट्रोल रूम के 100 नंबर पर कॉल की। गालीगलौज के साथ कहा कि चिनहट के लौलाई से बोल रहा हूं, विधान भवन में बम रख दिया है, बचा सको तो बचा लो।

इस कॉल पर यूपी-100 की टीम ने आला अफसरों को जानकारी दी। एसएसपी दीपक कुमार के आदेश पर सर्विलांस टीम ने धमकी देने में इस्तेमाल नंबर का कॉल डिटेल खंगाला।

मोबाइल फोन का आखिरी लोकेशन चिनहट के गांव सेमरा के पास मिला। सिमकार्ड अंबेडकरनगर के अछेतपुर अल्लापुर के रजितराम चौहान की आईडी से लिया गया था। अंबेडकरनगर पुलिस से पता चला कि रजितराम (51) करीब 25 साल से परिवार के साथ लखनऊ में रह रहा है।
 
पुलिस ने कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए मटियारी इलाके में रजितराम का ठिकाना ढूंढ निकाला। पता चला कि बेटे अनिल सिंह चौहान, पंकज व दीपक मजदूरी करके भरण पोषण करते हैं और छोटी बहन उनके साथ रहती है।

प्लंबर का काम करने वाले रजितराम का नशे की लत के चलते कुछ दिनों से दिमागी संतुलन गड़बड़ है। बेटों को साथ लेकर पुलिस ने रजितराम की तलाश शुरू की और रात को वह सड़क पर भटकते नजर आ गया। 

You May Also Like

English News