अभी-अभी: ओवैसी पर फेंका गया जूता, तीन तलाक बिल का रहे थे विरोध

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के चीफ और सांसद असदुद्दीन ओवैसी पर मंगलवार को मुंबई में जूता फेंका गया। मुंबई के नागपाड़ा इलाके में एक रैली के दौरान ओवैसी तीन तलाक के विरोध में भाषण दे रहे थे और इसी बीच एक शख्स ने उन पर जूता फेंक दिया। अभी-अभी: ओवैसी पर फेंका गया जूता, तीन तलाक बिल का रहे थे विरोधपुलिस की जानकारी के मुताबिक आरोपी गिरफ्त में नहीं आया है। पुलिस ने बताया कि सीसीटीवी की मदद से आरोपी की पहचान कर ली गई है और जल्द ही उसे हिरासत में ले लिया जाएगा। न्यूज एजेंसी पीटीआई की जानकारी के मुताबिक ओवैसी ने कहा कि जो लोग ये हरकतें कर रहे हैं, वो नहीं चाहते कि जनता खासतौर पर मुस्लिम समुदाय तीन तलाक के खिलाफ आए बिल का विरोध करें। 

ओवैसी ने आगे कहा कि ये लोग महात्मा गांधी के हत्या करने वालों की विचारधारा को फॉलो करते हैं, लेकिन इस तरह की घटना उन्हें सच बोलने से रोक नहीं सकती।

पद्मावत पर ओवैसी ने दिया विवादित बयान

ओवैसी ने आरोप लगाया है कि तीन तलाक विधेयक मुस्लिमों के खिलाफ एक साजिश है और समुदाय के पुरुषों को दंडित करने की एक चाल है। हैदराबाद से लोकसभा सांसद ओवैशी ने केंद्र सरकार पर तीखा हमला करते हुए कहा कि ‘पद्मावत’ फिल्म से जुड़े विवाद के मामले पर संसद की एक समिति ने विचार किया था लेकिन तीन तलाक के मुद्दे को लेकर ऐसा कोई कदम नहीं उठाया गया। 

उन्होंने सोमवार रात एक जनसभा में कहा कि तीन तलाक विधेयक मुस्लिम समुदाय के खिलाफ एक साजिश है। यह समुदाय की महिलाओं को सड़कों पर लाने और पुरुषों को जेल भेजने की एक चाल है। हालांकि उन्होंने कहा कि मुस्लिम समुदाय को उन लोगों का सामाजिक बहिष्कार करना चाहिए जो तलाक के लिए तीन तलाक का सहारा लेते हैं।

ओवैसी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के लिए कुछ नहीं कर रहे लेकिन दूसरों द्वारा किए जाने वाले अच्छे काम का श्रेय लेने में हमेशा आगे रहते हैं।

ओवैसी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मुस्लिम मुक्त भारत चाहती है लेकिन ऐसा कभी नहीं होगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार वीडी सावरकर की विचारधारा थोपने की कोशिश कर रही है। ओवैसी ने कहा कि एमएस गोवलकर, केबी हेडगेवार और सावरकर हिंदुत्व विचारधारा के थे और हम इसे स्वीकार नहीं करेंगे। 

You May Also Like

English News