अभी-अभी: कपिल मिश्रा ने जारी किया ‘AAP का इंटरनल सर्वे’….

आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों की सदस्यता पर छाये संकट के बादलों के बीच कपिल मिश्रा ने एक सर्वे रिपोर्ट जारी की है. आम आदमी पार्टी से निकाले गए कपिल मिश्रा ने इसे पार्टी का आंतरिक सर्वे बताया है, जिसमें 20 विधायकों की सीटों पर चुनाव होने की स्थिति में आम आदमी पार्टी की हार की आशंका जताई गई है.अभी-अभी: कपिल मिश्रा ने जारी किया 'AAP का इंटरनल सर्वे'....

दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने दावा किया है कि इन 20 विधानसभा सीटों पर आम आदमी पार्टी ने ये सर्वे कराया है, जिसमें ज्यादातर सीटों पर पार्टी की हार की रिपोर्ट उभरकर आई है.

ये है सर्वे रिपोर्ट- कपिल मिश्रा का दावा

1. द्वारका विधानसभा सीट – यहां से आदर्श शास्त्री विधायक हैं. सर्वे में सामने आया है कि पार्टी यह सीट हार रही है, जिसके चलते यहां से उम्मीदवार बदला जा सकता है.

2. चांदनी चौक विधानसभा सीट – इस सीट पर अभी अलका लांबा विधायक हैं. सर्वे में दावा किया गया है कि ये सीट भी पार्टी हार रही है और यहां का उम्मीदवार बदला जा सकता है. लोगों का कहना है कि उन्होंने अपनी विधायक को इलाके में नहीं देखा है.

3. गांधीनगर सीट – अनिल बाजपेयी इस सीट से विधायक हैं. पार्टी ये सीट भी हार रही है, जिसके चलते एक कांग्रेस नेता से बात की जा रही है, जिन्हें आम आदमी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ाया जाएगा.

4. कालकाजी सीट- सर्वे के मुताबिक, पार्टी ये सीट भी हार रही है. फिलहाल, अवतार सिंह यहां से विधायक हैं, जिन्हें बदलने का दावा किया गया है. बताया गया कि यहां के झुग्गी इलाके में कोई विकास नहीं किया गया है.

5. नजफगढ़ सीट – कैलाश गहलोत अभी यहां से विधायक हैं और ये सीट भी पार्टी हारती दिख रही है. यहां पार्टी कार्यकर्ताओं में फूट पैदा हो गई है. पार्टी उम्मीदवार बदलने के मूड में नहीं है.

6. कस्तूरबा नगर सीट – इस सीट पर उम्मीदवार बदला जाएगा और फिलहाल यहां से मदन लाल विधायक हैं. पार्टी एक नवनिर्वाचित पार्षद को इस सीट से बतौर कैंडिडेट उतारने की तैयारी कर रही है.

7. कोंडली विधानसभा सीट – मनोज कुमार इस सीट से विधायक हैं और उन्हें बदलने पर पार्टी विचार कर रही है. क्योंकि सर्वे में पार्टी ये सीट हारती दिख रही है. इस क्षेत्र में ग्रामीण इलाकों से जुड़े लोग नाखुश हैं. यहां टूटी सड़कें और पानी बड़े मुद्दे हैं.

8. महरौली सीट – नरेश यादव इस सीट से विधायक हैं और उन पर पार्टी एक बार फिर भरोसा करने के मूड में है. ये संजय सिंह के करीबी माने जाते हैं.

9. लक्ष्मी नगर सीट – नितिन त्यागी यहां से विधायक हैं और पार्टी इस सीट को हार रही है. बावजूद इसके पार्टी उम्मीदवार बदलने पर विचार नहीं कर रही है. नितिन त्यागी डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के करीबी माने जाते हैं.  

10. जंगपुरा सीट – चुनाव होने पर पार्टी को यहां हार मिलने की आशंका है. इसलिए यहां से पार्टी उम्मीदवार बदलने के मूड में है. क्षेत्र में विकास कार्य न होने से जनता नाखुश बताई जा रही है. 

11. वजीरपुर सीट – राजेश गुप्ता इस सीट से विधायक हैं और पार्टी यहां से भी हारती दिख रही है. वॉलियंटर्स इस इलाके में पार्टी का साथ छोड़ चुके हैं. उम्मीदवार बदले जाने की संभावना है. इस सिलसिले में कांग्रेस के एक नेता से बातचीत चल रही है.

12. जनकपुरी सीट – फिलहाल राजेश ऋषि इस सीट से विधायक हैं. ये कुमार विश्वास के करीबी माने जाते हैं और उन्हें अगली बार टिकट मिलने की संभावना बहुत कम है. पार्षद चुनाव हारने वाले नेता से बात चल रही है.

13. बुराड़ी सीट – संजीव झा फिलहाल इस सीट से विधायक हैं. इलाके में पार्टी नेताओं के बीच आपसी मतभेद बड़े पैमाने पर है. बावजूद इसके पार्टी यहां से उम्मीदवार नहीं बदलेगी.

14. रोहतास नगर सीट – ये सीट पार्टी हार रही है. यही वजह है कि मौजूदा विधायक सरिता सिंह का पत्ता अगली बार कट सकता है. लोगों के बीच उनकी पकड़ नहीं है. साथ ही वो कुमार विश्वास की करीबी भी हैं. एक कांग्रेस नेता के बेटे से पार्टी की बातचीत चल रही है.

15. सदर बाजार सीट – सोम दत्त इस सीट से विधायक हैं और पार्टी यहां से हार रही है. जिसके चलते उम्मीदवार बदला जाएगा. उम्मीदवार के तौर पर पार्टी तीन नामों पर चर्चा कर रही है.

16. नरेला सीट – इस क्षेत्र में पार्टी संगठन नाममात्र को बचा है. शरद कुमार विधायक हैं, जिन पर फिर से भरोसा किया जाएगा. हालांकि, गोपाल राय से उनके संबंध ठीक नहीं बताए जाते हैं.

17. मोती नगर सीट – शिवचरण गोयल सिटिंग विधायक हैं, जो खुद ही अगली बार चुनाव नहीं लड़ना चाहते हैं. वो अपनी जगह किसी और के नाम का प्रस्ताव कर सकते हैं. हालांकि, पार्टी ये सीट हार रही है.

18. मुंडका सीट – फिलहाल सुखबीर सिंह यहां से विधायक हैं और उन्हें बदला जाएगा. ऐसा दावा रिपोर्ट में किया गया है. पार्टी एक कांग्रेस नेता के संपर्क में है.

19. राजेंद्र नगर सीट – पार्टी ये सीट हार रही है और फिलहाल यहां से विजेंद्र गर्ग विधायक हैं. पानी और सीवर यहां की बड़ी समस्या है. उम्मीदवार बदला जा सकता है.

20. तिलक नगर सीट – जरनैल सिंह फिलहाल इस सीट से विधायक हैं. दावा किया गया है कि वो सिख समुदाय के बीच प्रसिद्ध नहीं हैं, साथ ही उनकी छवि भी सवालों के घेरे में है. हालांकि, वो संजय सिंह के करीबी हैं, जिसके चलते उनका टिकट नहीं काटा जाएगा ऐसे दावा किया गया है.

बता दें कि ये रिपोर्ट आम आदमी पार्टी से निकाले जा चुके कपिल मिश्रा ने जारी की है. उन्होंने दावा किया है कि ये सर्वे आम आदमी पार्टी ने कराया है, जिन 20 सीटों का जिक्र किया गया है, ये वो हैं जहां से मौजूदा विधायक लाभ का पद मामले में संकट में हैं. चुनाव आयोग इन सभी 20 विधायकों को अयोग्य ठहराने की राय राष्ट्रपति को दे चुका है, जिसके बाद अब राष्ट्रपति के रुख सबकी नजर है.

You May Also Like

English News