अभी-अभी: गांगुली ने दिया बड़ा बयान, कहा- इस खिलाड़ी की वजह से चल रहा है धोनी का बल्ला

श्रीलंका के सफल दौरे के बाद एमएस धोनी ने एक बार फिर चेन्नई में टीम इं‌डिया को संकट से निकालकर मैच जिताने में अहम भूमिका निभाई। कंगारुओं के खिलाफ पहले वन डे में टीम इंडिया का स्कोर एक समय 5 विकेट पर 87 रन था। इसके बाद धोनी ने हार्दिक पांड्या के साथ 118 रनों की साझेदारी कर टीम इं‌डिया को मैच में वापस लाया। श्रीलंका में भी दो वन डे मैचों में धोनी ने टीम इंडिया की जीत में अहम योगदान दिया था। इस तरह धोनी का बल्ला अब लगातार मैचों में चलकर टीम इंडिया को मैच जिता रहा है। अभी-अभी: गांगुली ने दिया बड़ा बयान, कहा- इस खिलाड़ी की वजह से चल रहा है धोनी का बल्ला

अभी-अभी: सचिन तेंदुलकर को लगा बड़ा झटका, उनके ‘आशियाने’ पर चलेगा बुलडोजर…

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने धोनी की इस सफलता के पीछे टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली को जिम्मेदार माना है। गांगुली ने कहा कि धोनी के इस तरह के नए रोल का श्रेय कप्तान विराट कोहली को भी जाता है। मीडिया में बात करते हुए गांगुली ने कहा कि विराट कोहली के विश्वास की वजह से ही आजकल धोनी इतने बेहतर ढंग से रन बना रहे हैं। पूर्व कप्तान ने कहा कि जब आपका कप्तान आप पर विश्वास जाहिर करता है तब आप और बेहतर ढंग से प्रदर्शन करते हैं। 

गांगुली ने कहा कि धोनी काफी लंबे समय से खेल रहे हैं। 300 वन डे खेल चुके हैं। 9737 रन बना चुके हैं। क्रिकेट के इस प्रतियोगी माहौल में सीनियर बल्लेबाजों का लगातार प्रदर्शन करना जरूरी हो गया है। ऐसे में अगर कप्तान आप पर विश्वास करता रहे तो आप अपने अनुभव का बेहतर ढंग से इस्तेमाल करते हैं। लिहाजा धोनी की ऐसी सफलता के पीछे विराट कोहली का विश्वास ही मुख्य फैक्टर हो सकता है।     

धोनी 36 साल के हो गए हैं। चेन्नई में उन्होंने सूझबूझ से 79 रनों की पारी खेलकर संकेत दिए हैं कि अभी उनमें दो तीन साल की क्रिकेट और बची है। धोनी ने चेन्‍नई में अपने वन डे करियर का 66 वां अर्धशतक लगाया। तीनों फॉर्मेट में उन्होंने कुल 100 अर्धशतक लगा दिए हैं। धोनी ऐसी उपलब्धि हासिल करने वाले दुनिया के 14 वें क्रिकेटर हो गए हैं। टीम इंडिया की तरफ से धोनी से पहले यह कारनामा सिर्फ सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली ने ही किया है। सचिन ने 164, द्रविड़ ने 146 तथा गांगुली ने 107 अर्धशतक लगाए हैं।  

इस साल की शुरुआत में कप्तान का पद छोड़ने के बाद महेंद्र सिंह धोनी का बल्ला बड़ी जिम्मेदारी के साथ टीम इंडिया को मैच जिता रहा है। इस साल उन्होंने अब तक कुल 14 पारियों में 89.57 की औसत से  627 रन बना लिए हैं। धोनी ने इस दौरान पांच अर्धशतक लगाए हैं। 79 उनका सर्वाधिक स्कोर है। इस साल टीम इंडिया को अभी 10 वन डे मैच और खेलने हैं। लिहाजा रनों का यह आंकड़ा अभी और अधिक हो सकता है। 

You May Also Like

English News