अभी-अभी: जरी हुआ हाई अलर्ट, मिली ट्रेनें उड़ाने की धमकी…

रामपुर के पास राज्यरानी एक्सप्रेस दुर्घटना के बाद तीन और ट्रेनों को इसी तरह उड़ाने की धमकी दी गई है। एक अनजान नंबर से कानपुर के एक वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी के सीयूजी फोन पर धमकी भरा कॉल किया गया। कॉल के बाद से फोन नंबर बंद हो गया।पुलिस मुख्यालय ने सभी आईजी, डीआईजी व रेलवे को सतर्कता के निर्देश दिए।

देर रात डीआईजी बरेली के रेलवे कंट्रोल ने चारों जिलों और रेलवे स्टेशनों के जीआरपी थाना प्रभारियों को अलर्ट कर दिया। अभी अभी: सुप्रीम कोर्ट ने इस सबसे बड़े फैसले पर लगा दी मुहर, झूमा उठा पूरा देश पुलिस मुख्यालय तक खलबली सूत्रों के मुताबिक, कानपुर में तैनात एक वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी के फोन पर शाम करीब साढ़े आठ बजे अनजान नंबर से कॉल आया था। कॉल करने वाले व्यक्ति ने बिना किसी परिचय के राज्यरानी एक्सप्रेस की तरह तीन और ट्रेनों के साथ भी ऐसा ही हश्र करने की धमकी।

चंद सेकेंड बाद ही कॉल कट गई। इसके बाद से नंबर बंद हो गया। अधिकारी की सूचना पर पुलिस मुख्यालय में खलबली मच गई। देर रात बरेली, रामपुर, शाहजहांपुर, हरदोई, मुरादाबाद से लेकर दिल्ली रूट के सभी जिलों और स्टेशनों को अलर्ट कर दिया गया। टॉप बैंकों के 30+ क्रेडिट कार्ड ऑफर्स. अभी अप्लाई करें! जानिए क्यों लाखों लोग CARS24 को गाड़ी बेचते हैं क्या आप जानते हैं? आप कार इंश्योरेंस प्रीमियम पर 60% तक छूट पा सकते हैं बरेली जंक्शन पर देर रात चेकिंग ट्रेन उड़ाने की धमकी और अलर्ट के बाद बरेली जंक्शन पर देर रात जीआरपी और आरपीएफ की संयुक्त टीम ने चेकिंग की।

प्लेटफार्म नंबर एक से लेकर छह नंबर और सर्कुलेटिंग एरिया में चेकिंग कराई। प्लेटफार्म के बाहर आउटर क्षेत्र में शाहजहांपुर और रामपुर की तरफ ट्रैक पर गश्त निगरानी बढ़ा दी। हालांकि, इस दौरान कोई संदिग्ध वस्तु या व्यक्ति नहीं मिला। इस मामले में एसपी जीआरपी मुरादाबाद, शगुन गौतम ने कहा कि इंटेलीजेंस और पुलिस मुख्यालय से अलर्ट का इनपुट मिला। किसी ने कॉल करके एक वरिष्ठ अधिकारी के सीयूजी नंबर पर सूचना दी थी। मोबाइल नंबर की जांच की जा रही है। सभी स्टेशन व जीआरपी प्रभारियों को अलर्ट रहने के निर्देश दे दिए हैं।

You May Also Like

English News