अभी-अभी: जेल से बाहर आईं वीके शशिकला बीमार पति से मिलने पहुंचीं अस्पताल

जेल से पैरोल पर 5 दिन के लिए बाहर आईं अन्नाद्रमुक की लीडर वीके शशिकला अपने बीमार पति से मिलने के लिए अस्पताल पहुंची हैं। आय से अधिक संपत्ति के आरोप में कानूनी कार्रवाई का सामना कर रही शशिकला को उनके फैन्स ने बीच रास्ते में ही घेर लिया और जोरों से स्वागत किया। बता दें कि शशिकला के पति एमके नटराजन ग्लेनीगल्स ग्लोबल हेल्थ सिटी में दाखिल है और लंबे समय से बीमार चल रहे हैं।अभी-अभी: जेल से बाहर आईं वीके शशिकला बीमार पति से मिलने पहुंचीं अस्पतालअभी-अभी: जेल से बाहर आईं वीके शशिकला बीमार पति से मिलने पहुंचीं अस्पताल
बेंगलूरू सेंट्रल जेल ने उन्हें इसी शर्त पर पैरोल दी है और निर्देश दिए की वे हॉस्पिटल के अलावा कहीं नहीं जा सकती। साथ ही उन्हें उसी घर में रहना होगा जिस घर का पता उन्होंने अपनी याचिका में लिखा है। यहां तक की इन पांच दिनों में शशिकला किसी भी राजनीतिक या पब्लिक मीटिंग में भाग नहीं ले सकेंगी और न ही किसी और से मिल ही सकेंगी।

शशिकला के वकील के मुताबिक जेल अधिकारियों को चेन्नई पुलिस कमिश्नर ने पैरोल से जुड़ी मेल भेजी जिसके बाद उन्हें पैरोल दी गई है। न्यूज एजेंसी एएनआई से की बातचीत में वकील ने कहा कि जेल अधिकारी अपने आधा अफसरों से पैरोल दिए जाने पर विचार किया। उनके मुताबिक जेल प्रशासन की शर्तों को मानने के बाद वे जेल से बाहर आ सकी हैं। वहीं अन्नाद्रमुक के नेता टीटीवी दिनाकरन और कुछ नेता जेल परिसर के पास पहुंच गए।

पार्टी चिन्ह की लड़ाई सुप्रीम कोर्ट पहुंची

बता दें कि एआईएडीएमके में पार्टी चिन्ह को लेकर घमासान मचा हुआ है और ये मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। दरअसल, पार्टी दो ग्रुप में बंट गई है, जिसमें एक ग्रुप दिनाकरन का है और दूसरा सीएम पनालीसामी का है।

पनालीसामी की ओर से दोनों नेताओं के खिलाफ कई कदम उठाए गए हैं, लेकिन शशिकला और दिनाकरन चिन्ह पर अपनी दावेदारी साबित करने की हर कोशिश कर रहे  हैं। हालांकि, दिनाकरन और शशिकला धांधली के आरोप में कानूनी कार्रवाई का सामना कर रहे हैं। 

You May Also Like

English News