अभी-अभी: टीम इंडिया के कोच ने किया बड़ा खुलासा, हर वक्त क्रिकेट के बारे में सोचता है ये खिलाड़ी

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने सीमित ओवर के फॉर्मेटों में भारत के स्तर को बढ़ा दिया है। बुमराह ने पिछले 24 वन डे मैचों में 44 विकेट लिए हैं और उनका इकॉनमी रेट पांच से कम है। एेसे प्रदर्शन के बाद बुमराह की तारीफ हो रही है। गुजरात के मुख्य कोच विजय पटेल ने बुमराह को एक बेहतर गेंदबाज बताया है। उन्होंने कहा है कि बुमराह हमेशा क्रिकेट के सफलता के बारे में सोचता है।अभी-अभी: टीम इंडिया के कोच ने किया बड़ा खुलासा, हर वक्त क्रिकेट के बारे में सोचता है ये खिलाड़ीRecord: इस युवा क्रिकेट खिलाड़ी ने की सचिन के रिकार्ड की बराबरी!

गौरतलब है कि पटेल के मार्गदर्शन में ही गुजरात ने 2012-13 में सैयद मुश्ताक अली टी -20 और 2014-15 में  विजय हजारे ट्रॉफी जीती। जबकि 2016 में प्रतिष्ठित रणजी ट्राफी में जीत हासिल की। बुमराह के कोच रहे पटेल ने कहा कि वह 19 साल की उम्र से ही बुमराह में तरक्की देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने बुमराह ‌की प्रशंसा की है। स्मिथ ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम जीतने के करीब आ जाती है, लेकिन अंत में हार जाती है। स्मिथ का कहना है कि सीमित-ओवर क्रिकेट में भारत के खिलाफ खेलने वाली अधिकांश टीमों का यही हाल है और बुमराह यहां प्रमुख भूमिका निभाते हैं।

स्मिथ का कहना है कि वर्तमान में जसप्रीत बुमराह डेथ ओवरों के दुनिया में सबसे प्रभावी तेज गेंदबाज है। स्मिथ ने कहा इनकी बेहतर गेंदबाजी से हमारे बल्लेबाज अंतिम ओवरों में ज्यादा रन नहीं बना सकते हैं। पटेल का मानना ​​है कि आईपीएल के अनुभव ने 23 साल के बुमराह को मदद करने में एक बड़ी भूमिका निभाई है।

विजय पटेल ने स्पोर्ट्सस्टार से बातचीत में कहा, ‘ऐसा नहीं होता है कि आप देखेंगे और विकेट ले लेंगे। आपको मानसिक रूप से कार्य के लिए ट्यून करना होगा और जानना होगा कि कब गेंद को तेज और कहां खेल को धीमा करना करना है। ये महत्वपूर्ण है। वह शुरू से ही इसके लिए तैयार था।’ आगे उन्होंने कहा कि आईपीएल में मुंबई इंडियंस के अंतरराष्ट्रीय गेंदबाजों के साथ काम करने से उन्हें बहुत मदद मिली है। वह 19 साल की उम्र से ही गुजरात के साथ है।और हम जानते हैं कि भारत में खेलने के लिए उन्हें क्या करना पड़ता है।

बता दें कि श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में गेंदबाजी के लिहाज से टीम इंडिया के तेज गेदबाज जसप्रीत बुमराह ने बेहतरीन गेंदबाजी की। बुमराह ने सीरीज के पांच मैचों में 11.26 के औसत से 169 रन देकर 15 विकेट हासिल किए थे। इस दौरान 27 रन देकर पांच विकेट उनका सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन रहा।

 

You May Also Like

English News