अभी-अभी: डूसू चुनाव में एक बार फिर आया नया मोड़…..

एनएसयूआई अध्यक्ष पद के उम्मीदवार रॉकी तुषीड को कोर्ट से राहत मिलने के बाद डूसू चुनाव में फिर एक नया मोड़ आ गया है। संगठन ने एक बार फिर रॉकी तुषीड को मैदान में उतारा है। जबकि बृहस्पतिवार को अध्यक्ष पद के लिए घोषित उम्मीदवार अलका सेहरावत को बैठा लिया गया है। अब वह रॉकी तुषीड का प्रचार में समर्थन करेंगी। डूसू चुनाव कार्यालय ने रॉकी को नया बैलेट नंबर 9 जारी कर दिया।अभी-अभी: डूसू चुनाव में एक बार फिर आया नया मोड़.....सरकार के खिलाफ कारी शोहेब ने लगाया ये बड़ा आरोप, कहा- झूठे मामले में राजद अध्यक्ष को फंसा रही

एनएसयूआई का कहना है कि रॉकी तुषीड के नामांकन को एक मनमाने और दुर्भावनापूर्ण तरीके से स्वीकार नहीं किया। उच्च न्यायालय ने उनकी उम्मीदवारी को बहाल कर दिया। एनएसयूआई ने देर शाम डूसू चुनाव अधिकारियों से मुलाकात कर अलका का नामांकन रद्द करने की मांग की है।

एनएसयूआई का कहना है कि वह हमारी उम्मीदवार थीं और यदि उनका नामांकन रद्द नहीं होता तो ईवीएम मशीन पर उसका बैलेट नंबर एक रहेगा। इससे छात्रों में असमंजस की स्थिति बन सकती है।

चुनाव तारीख चार दिन बढ़ाने की मांग 

एनएसयूआई ने अब डूसू चुनाव कार्यालय से चुनाव तारीख चार दिन बढ़ाने की मांग की है। उनका कहना है कि कहना है कि रॉकी के पूरे दो दिन नामांकन रद्द किए जाने के कारण खराब हो गए। शनिवार का दिन है जिसमें कुछ कॉलेज बंद रहेंगे लिहाजा प्रचार मुश्किल है।

वहीं रविवार को विश्वविद्यालय बंद रहता है और सोमवार सुबह 8: 30 बजे से प्रचार बंद हो जाएगा। एनएसयूआई का कहना है कि इस मांग पर चुनाव अधिकारियों ने कल फैसला लेने की बात कही है। उधर, दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ मुख्य चुनाव अधिकारी प्रो. एस.बी बब्बर ने कहा कि फिलहाल कोर्ट के आदेश का इंतजार कर रहे हैं।

कोर्ट के आदेश के आधार पर ही इस पर विचार किया जाएगा। उनका कहना है कि लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों के मुताबिक 56 दिनों में चुनाव प्रक्रिया पूरी करनी होती है।

कैंपस में निकाला विजय जुलूस 
हाईकोर्ट से रॉकी तुषीड को राहत मिलने के बाद एनएसयूआई ने नॉर्थ कैंपस में विजय जूलुस निकाला। इस जूलुस में एनएसयूआई इंचार्ज रुचि गुप्ता, एनएसयूआई राष्ट्रीय अध्यक्ष फिरोज खान, पूर्व डूसू अध्यक्ष अजय चिकारा समेत एनएसयूआई के अन्य पदाधिकारी व समर्थक शामिल हुए।

You May Also Like

English News