अभी-अभी: नोएडा के रेयान स्कूल में भी बच्चों की सुरक्षा को लेकर किया बड़ा खुलासा…..

सात साल के प्रद्युम्न को स्कूल की लापरवाही की वजह से अपनी जान गंवानी पड़ी. गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में क्लास टू में पड़ने वाले प्रद्युम्न को स्कूल के वॉशरूम में ही गला काटकर मार दिया गया. लेकिन क्या सिर्फ गुरुग्राम का रेयान स्कूल ही बच्चों की सुरक्षा के मामले में लापरवाह है या फिर बाकी स्कूलों का भी यही हाल है. यही जानने के लिए ‘आजतक’ की टीम ने नोएडा एक्सटेंशन के रेयान इंटरनेशल की पड़ताल कर वहां के सुरक्षा इंतजामों का जायजा लिया तो पता चला कि इस स्कूल में भी बच्चों की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है.   अभी-अभी: नोएडा के रेयान स्कूल में भी बच्चों की सुरक्षा को लेकर किया बड़ा खुलासा.....अभी-अभी: नीतीश की और भी बढ़ी मुश्किलें, सुप्रीम कोर्ट में MLC की सदस्यता रद्द कराने की याचिका पर होगी सुनवाई

नोएडा के रेयान स्कूल के चारों तरफ एंट्री पॉइंट पर सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे हुए हैं. रियलिटी चेक के दौरान नर्सरी और पांचवी क्लास तक पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों ने मैन गेट पर सीसीटीवी न होने पर सवाल उठाए हैं. एंट्री पॉइंट पर कुछ ईटें भी रखी हुई हैं जिनके छोटे-छोटे बच्चों पर गिरने का डर बना रहता है.

स्कूल में आने-जाने वाली बसों को बिना जांच-पड़ताल के एंट्री दी जाती है. रिएलिटी चेक के दौरन 2 बसों का जायजा लिया. दोनो ही बसों के ड्राइवर के पास स्कूल का आईडी कार्ड मौजूद नहीं था. स्कूल के एक शख्स ने बताया कि अभी तक ठेकेदार ने आईडी कार्ड नहीं दिया है. हैरान करने वाली बात यह कि जब रेयान स्कूल की प्रिंसिपल, बच्चों के अभिभावकों को सुरक्षा का भरोसा दिला रही थी, ठीक उसी वक़्त बसों की एंट्री बिना आईडी के स्कूल के अंदर हो रही थी. 

गुरुग्राम के जिस स्कूल में प्रद्युम्न की हत्या हुई उसकी बाउंड्री वॉल के पास ही एख शराब का ठेका था, जिसे रविवार को गुस्साई भीड़ ने आग के हवाले कर दिया. हरियाणा सरकार की ओर से भी उस ठेके का लाइसेंस रद्द कर दिया गया है. लेकिन आपको बता दें कि नोएडा के रेयान स्कूल से महज 500 मीटर के दायरे में भी सरकारी शराब की एक दुकान है. स्कूल के बाहर पेरेंट्स ने इस शराब की दुकान पर पहुंचकर सरकार से ठेका हटाने की मांग की है.

You May Also Like

English News