अभी-अभी: पद्मावती का नया पोस्टर जारी, फिल्म की रिलीज डेट पर कंफ्यूजन

संजय लीला भंसाली की आगामी फिल्म पद्मावती का नया पोस्टर जारी किया गया है. जिसमें दीपिका बेमिसाल खूबसूरत लग रही हैं. एक्ट्रेस के इस अंदाज की सोशल मीडिया पर काफी वाहवाही हो रही है. लेकिन इस पोस्टर में एक खास बात है जो कि फैंस को असमंजस में डाल रही है.अभी-अभी: पद्मावती का नया पोस्टर जारी, फिल्म की रिलीज डेट पर कंफ्यूजनभारत-पाकिस्तान की सीमा पर पहुंची तुम्हारी सुलु विद्या, लगा चुकी हैं घूरने का आरोप

दरअसल, पोस्टर में फिल्म की रिलीज डेट 30 नवंबर लिखी है. जबकि फिल्म के 1 दिसंबर को रिलीज होने का ऐलान हुआ है. ऐसे में दर्शक रिलीज डेट को लेकर कंफ्यूज जरूर हो गए हैं. तो चलिए हम आपको बताते हैं कि असल में यह माजरा क्या है. 

खबर है कि यह पोस्टर UAE के लिए रिलीज किया गया है. वहां फिल्म भारत से एक दिन पहले रिलीज हो रही है. वैसे फिल्म UAE में एक दिन पहले रिलीज करने से भारत में इसके लीक होने का खतरा बढ़ सकता है. इसलिए क्या पता फिल्ममेकर यहां भी पद्मावती की रिलीज डेट प्रीपोन करने के बारे में सोचे.

वैसे, इस दीपिका का यह लुक सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. उनका लुक सभी का ध्यान अपनी ओर खींच रहा है. पोस्टर को देखकर लग रहा है कि यह जौहर का सीन है.

फिल्म का हो रहा विरोध 

दीपिका-रणवीर-शाहिद की इस फिल्म का लगातार विगोध हो रहा है. कभी राजनीतिक पार्टियां तो कभी सामाजिक संगठन फिल्म का विरोध कर रहे हैं. राजस्थान में कोई डिस्ट्रीब्यूटर फिल्म दिखाने को राजी नहीं है. सभी ने फिल्म के राइट्स खरीदने से मना कर दिया है. इस बीच जयपुर के पूर्व राजपरिवार ने भी पद्मावती का विरोध किया है. पूर्व राजघराने की प्रिंसेस और विधायक दीया कुमारी ने पद्मावती पर अपना गुस्सा जाहिर किया है. उन्होंने कहा कि फिल्म के बहाने राजस्थान के इतिहास से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है.

जानें फिल्म ‘पद्मावती’ के बारे में

फिल्म पद्मावती एक ऐतिहासिक लव स्टोरी है. जिसमें रणवीर अलाउद्दीन खिलजी का किरदार निभा रहे हैं. दीपिका रानी पद्मावती और शाहिद उनके पति राजा रतन सिंह की भूमिका निभाएंगे. यह 1 दिसंबर को रिलीज होने वाली है. फिल्म में अलाउद्दीन और पद्मावती का प्रसंग सूफी कवि मल्लिक मुहम्मद जायसी ने शेर शाह सूरी के काल में 1540 में लिखा था. कहानियों के मुताबिक अलाउद्दीन रानी पर आसक्त था और उसने उन्हें हासिल करने के लिए चित्तौड़गढ़ पर हमला कर दिया था. हालांकि वह रानी के जीते जी ऐसा करने में कामयाब नहीं हुआ.

You May Also Like

English News