अभी-अभी: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से BCCI ने की सात करोड़ डॉलर मुआवजे की मांग…

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) ने दो ‘घरेलू’ बाईलैटरल सीरीज नहीं खेलने के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) से सात करोड़ डॉलर मुआवजे की मांग की है. पीसीबी ने इस मसले पर सलाह मशविरे की प्रक्रिया पूरी करके मुआवजे की रकम तय की है. वह कुछ दिन में आईसीसी की भुगतान निबटान समिति के पास दावा पेश करेगा.अभी-अभी: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से BCCI ने की सात करोड़ डॉलर मुआवजे की मांग...कोहली सहित ये खिलाड़ी कभी नहीं भूल पाएंगे नवरात्रों के ये 9 दिन…

पीसीबी अध्यक्ष नजम सेठी ने कहा,‘हमने बीसीसीआई के साथ 2014 में सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए थे जिसके तहत छह बाईलैटरल सीरीज खेलने पर सहमति बनी थी. जिनमें हमारी मेजबानी में घरेलू सीरीज शामिल थी.

सेठी ने कहा, ‘भारत ने इस पर अमल नहीं किया और 2008 से अब तक हमारे साथ बाईलैटरल सीरीज नहीं खेली है. लेकिन हमारे खिलाफ आईसीसी टूर्नामेंटों में खेलने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं है.’

 सेठी ने कहा, ‘सहमति पत्र के तहत दोनों देशों को 2015 से 2023 के बीच छह बाईलैटरल सीरीज खेलनी थी. पाकिस्तान को भारत के साथ बाईलैटरल सीरीज खेलने में कभी परेशानी नहीं थी. लेकिन बीसीसीआई के टीम नहीं भेजने से उसे भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा है.’

You May Also Like

English News