अभी-अभी: फर्जी स्टांप पेपर घोटाले के दोषी तेलगी की हालत हुई नाजुक, हॉस्पिटल में…

स्टाम्प पेपर घोटाले के दोषी अब्दुल करीम तेलगी की हालत गंभीर है। जेल में तबीयत बिगड़ने के बाद उसे 4 दिन पहले बेंगलुरु के हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। डॉक्टर्स की मानें तो तेलगी वेंटिलेटर पर है और उसकी हालत स्थिर बनी है। कहा जाता है कि तेलगी एड्स से पीड़ित है। बता दें कि कोर्ट ने तेलगी को 30 साल की सजा सुनाई और 202 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया था। फिलहाल वह बेंगलुरु की सेंट्रल जेल में बंद है। 2001 में अजमेर से गिरफ्तार हुआ था तेलगी…अभी-अभी: फर्जी स्टांप पेपर घोटाले के दोषी तेलगी की हालत हुई नाजुक, हॉस्पिटल में...Shocking: डेरा सच्चा सौदा के समर्थकों को हरियाणा विधानसभा में दी गई श्रद्धांजलि

तेलगी के वकील एमटी नानैया ने सोमवार को कहा, “तेलगी की हालत गंभीर है। उन्हें 4 दिन पहले विक्टोरिया हॉस्पिटल में भर्ती कराया है। दिमागी बुखार के चलते तेलगी को वेंटिलेटर पर रखा गया है। मुझे लगता है कि उन्हें हॉस्पिटल लाने में देरी की गई।”
– बता दें कि, तेलगी नवंबर 2001 में अजमेर से गिरफ्तार हुआ था। इसके बाद पता चला कि वह डायबिटीज और हाइपरटेंशन से पीड़ित है। इतना ही नहीं उसे एड्स समेत कई गंभीर बीमारियों ने जकड़ लिया है।
कभी फल बेचता था तेलगी, जाली स्टाम्प से की 20 हजार करोड़ की धोखाधड़ी
– करियर के शुरुआती दौर में तेलगी फल-सब्जियां बेचाता था। इसके बाद जाली पासपोर्ट बना कर ठगी करने लगा। फिर उसने जाली स्टाम्प पेपर प्रिंट किए और इन्हें बैंक, बीमा कंपनियों, फॉरेन इन्वेस्टर्स और शेयर ब्रोकिंग कंपनियों को बेच दिए। इस घोटाले में तेलगी ने 12 राज्यों में 20,000 करोड़ की धोखाधड़ी की। 
– तेलगी के नार्को टेस्ट में खुलासा हुआ था कि एनसीपी प्रेसिडेंट शरद पवार और छगन भुजबल जैसे कई बड़े नेता से उसके रिश्ते थे। 

You May Also Like

English News