अभी-अभी: फिल्ममेकर और रानी मुखर्जी के पिता का हुआ नि‍धन, पूरा बॉलीवुड शोक में डूबा

रानी मुखर्जी के पिता राम मुखर्जी का 22 अक्टूबर सुबह  निधन हो गया. उनका पार्थिक शरीर करीब साढ़े दस बजे उनके घर जानकी कुटीर ले जाया गया है. दोपहर दो बजे विले पार्ले के पवन हंस श्मशा घाट में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.अभी-अभी: फिल्ममेकर और रानी मुखर्जी के पिता का हुआ नि‍धन, पूरा बॉलीवुड शोक में डूबाVIDEO: कुछ इस तरह से किंग खान ने पूरी की कैंसर पीड़ित फैन की इच्छा..

बताया जा रहा है कि राम मुखर्जी मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती थे. उनकी सेहत काफी समय से खराब थी. आखिरी बार वह रानी मुखर्जी के घर आयोजित दुर्गा पूजा में नजर आए थे. 85 वर्ष के राम मुखर्जी का हृदय गति रुक जाने से निधन हुआ बताया जा रहा है.

जानें रानी मुखर्जी से जुड़ी 10 दिलचस्‍प बातें

राम मुखर्जी जाने-माने फिल्म निर्देशक थे. उन्होंने हिंदी और बंगाली की कई फिल्मों का निर्देशन किया है. वह मुंबई के फिल्मालय स्टूडियो के संस्थापक सदस्यों में से एक थे. रानी मुखर्जी की डेब्यू फिल्म बाइर फूल का निर्माण और निर्देशन भी राम मुखर्जी ने ही किया था. ये फिल्म साल 1996 में आई थी. 1997 में आई हिंदी फिल्म राजा की आएगी बारात के प्रोड्यूसर भी राम मुखर्जी ही थे.

1964 में आई दिलीप कुमार और वैजयंती माला की फिल्म  फिल्म लीडर का निर्देशन भी राम मुखर्जी ने ही किया था. इसके अलावा उन्हें 1960 में आई फिल्म हम हिंदुस्तानी के लिए भी जाना जाता है. 

रानी मुखर्जी की कमबैक फिल्म का ये होगा नाम

बता दें कि रानी मुखर्जी भी फिल्मी फैमिली से ताल्लुक रखती हैं. उनके पिता राम मुखर्जी तो जाने-माने फिल्मकार थे ही, उनकी मां कृष्णा मुखर्जी एक प्लेबैक सिंगर हुआ करती थी. रानी का भाई राजा मुखर्जी भी फिल्म एंड इंडस्ट्री से जुड़े हुए प्रोड्यूसर डायरेक्टर हैं.

You May Also Like

English News