अभी-अभी : बसपा के एमएलसी ने दिया इस्तीफा, यूपी की राजनीति में मची हड़कम्प

लखनऊ:  गुजरात में कांग्रेस में सेंध और बिहार में सत्ता परिवर्तन के बाद अब भाजपा ने यूपी की राजनीति में भूचाल ला दिया है। शनिवार को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अमित शाह लखनऊ तीन दिन के दौरे पर पहुंचे तो समाजवादी पार्टी के दो एमएलसी ने इस्तीफा दिया। कुछ ही घंटे के बाद बहुजन समाज पार्टी के एमएलसी जयवीर सिंह ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया।


बहुजना समाजवादी पार्टी के एमएलसी जयवीर सिंह ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। चर्चा ऐसी निकल कर सामने आ रही है कि वह अब भाजपा का दाम थाम सकते हैं। एक के बाद एक तीन एमएलसी का अपने पद से इस्तीफा देने से यूपी की राजनीति में भूचाल मचा दिया है। अभी तक यह साफ नहीं हो सका है कि बसपा एमएलसी जयवीर सिंह ने अपने पद से इस्तीफा क्यों किया। सत्ता से दूर हुई समाजवादी पार्टी को भी शनिवार को बड़ा झटका लगा है।

समाजवादी पार्टी के एमएलसी और राष्ट्रीय शिया समाज के फाउंडर बुक्कल नवाब और एलएलसी यशवंत सिंह ने पार्टी से इस्तीफा दिया। वहीं इस बात की भी चर्चा है कि सपा एमएलसी मधुकर जेटली भी इस्तीफा दे सकते हैं। बुक्कल नवाब ने पीएम मोदी और सीएम योगी की तारीफ की है। ऐसा माना जा रहा है कि सपा के ये दोनों एमएलसी भाजपा में जा सकते हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के लखनऊ पहुंचते ही समाजवार्दी को बड़ा झटके लगे हैं।

यह शाह का मास्टर स्ट्रोक माना जा रहा है। इस घटनाक्रम को कुछ मंत्रियो को एमएलसी बनाने का रास्ता माना जा रहा है। रिक्त सीट पर बीजेपी नेता उपचुनाव लड़ सकते हैं। बुक्कल नवाब ने कहा कि एक साल से वह पार्टी में उपेक्षित महसूस कर रहे थे। समाजवादी पार्टी एक अखाड़ा बन गया है। पार्टी में मुलायम सिंह यादव का अपमान हो रहा है। बुक्कल नवाब ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी केंद्र तथा राज्य में काफी अच्छा काम कर रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काफी अच्छा नारा दिया है। सबका साथ, सबका विकास। उन्होंने कहा कि अगर भारतीय जनता पार्टी से निमंत्रण मिलता है तो वह भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने को तैयार हैं। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ काफी अच्छा काम कर रहे हैं। अभी तक उनकी सरकार के ऊपर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं है।

You May Also Like

English News