अभी अभी: बैंक ऑफ इंडिया ने ब्याज दर में कटौती करने का किया बड़ा ऐलान….

सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक ऑफ इंडिया भी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की तर्ज पर बचत खातों के ब्याज दर में कटौती करने पर विचार कर रहा है. इससे पहले एचडीएफसी, एक्सिस और येस बैंक बचत बैंक खाते पर दिए जाने वाले ब्याज पर कटौती का ऐलान कर चुकी है.अभी अभी: बैंक ऑफ इंडिया ने ब्याज दर में कटौती करने का किया बड़ा ऐलान....AIIMS में प्रोफ़ेसर के पदों पर निकली वैकेंसी, जल्द करे आवेदन 

बैंक ऑफ इंडिया के कार्यकारी निदेशक आरएस शंकरनारायणन ने कहा कि बचत खातों की दर तथा जमा राशि की ब्याज दर में कटौती पर विचार किया जा रहा है. बचत खाते की दर हो सकता है तुरंत कम न की जाए पर इसपर विचार किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि बैंक इस साल आगे भी अच्छे कारोबार की उम्मीद करता है. इस वित्ती वर्ष की पहली तिमाही में बैंक को 88 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था.

इससे पहले निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक एचडीएफसी बैंक ने बचत बैंक खाता पर मिलने वाली ब्याज दर में 0.50 फीसदी की कटौती कर 3.5 फीसदी कर दिया है. यह कटौती 50 लाख रुपये तक की जमा राशि पर की गयी है. बैंक 50 लाख रुपये से अधिक जमा वाले खातों पर 4 फीसदी ब्याज देता रहेगा.

एचडीएफसी बैंक ने एक नियामकीय सूचना में कहा, बचत दर की समीक्षा के बाद जो ग्राहक अपने खातों में 50 लाख रुपये या उससे अधिक रखेंगे, उन्हें सालाना 4 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा. जिन ग्राहकों के खाते में 50 लाख रुपये से कम होगा, उन्हें सालाना 3.5 फीसदी ब्याज मिलेगा. संशोधित दरें प्रवासी और गैर-प्रवासी दोनों ग्राहकों पर लागू होगी. नई दर 19 अगस्त से प्रभाव में आएगी.

येस बैंक ने भी घटाई ब्याज दर

इसी क्रम में निजी क्षेत्र के येस बैंक ने बचत खाता पर ब्याज दर एक फीसदी घटायी है. येस बैंक ने एक लाख रुपये से कम राशि जमा रखने वाले बचत खाताओं पर ब्याज की दर एक फीसदी कम कर पांच फीसदी कर दी है. बैंक ने कहा कि एक लाख रुपये से अधिक लेकिन एक करोड़ रुपये से कम राशि जमा रखने पर वह 6 फीसदी की दर से ब्याज देना जारी रखेगा. एक करोड़ रुपये से अधिक जमा राशि पर भी ब्याज की दर 6.5 से कम करके 6.25 फीसदी कर दी है. येस बैंक की नई दरें 1 सितंबर से लागू होंगी

सबसे पहले SBI, फिर एक्सिस बैंक ने की कटौती

उल्लेखनीय है कि इससे पहले एसबीआई ने एक करोड़ रुपये और उससे कम जमा राशि वाले बचत खातों पर ब्याज दर 0.5 फीसदी घटाकर 3.5 प्रतिशत कर दिया था. इसके अलावा एक्सिस बैंक तथा सार्वजनकि क्षेत्र के बैंक आफ बड़ौदा ने भी बचत दर में 0.5-0.5 प्रतिशत की कटौती की है. यह कटौती 50 लाख रुपये तक की बचत जमा वाले खातों के लिये की गयी है.

You May Also Like

English News