अभी-अभी: योगी को लेकर मुस्लिम लड़कियों ने दिया ये बड़ा बयान

मुस्लिम लड़कियां योगी सरकार की फैन हो गईं हैं। उन्होंने यूपी के बाद अब बिहार में भी एंटी रोमियो स्क्वायड की मांग की है। चुनाव जीतने के बाद  उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनी तो मुख्यमंत्री बनते ही उन्होनें लड़कियों के साथ छेड़खानी को रोकने के लिए एंटी रोमियो दस्ता का गठन कर दिया। इस स्क्वायड को यूपी में खासा रिस्पांस मिल रहा है।

अभी-अभी: योगी को लेकर मुस्लिम लड़कियों ने दिया ये बड़ा बयान

एंटी रोमियो स्क्वायड की सफलता को देखते हुए  संसद से लेकर सड़क तक पूरे देश में प्रतिक्रियाओं का दौर जारी है।   सीमांचल इलाके की छात्राएं खास कर अल्पसंख्यक छात्राएं योगी के इस मुहिम का पूरजोर समर्थन कर रही हैं। कॉलेज और स्कूल जाने वाली लड़कियां भी बिहार में सरकार से इस तरह की एंटी रोमियो स्क्वाड दस्ता गठन करने की सुझाव दे रही हैं।
कटिहार के महिला कॉलेज में पढ़ने वाली अल्पसंख्यक और बहुसंख्यक दोनों तरह की छात्राओं से जब हमने बात की तो सबने एक स्वर से इसकी मांग की। छात्राओं ने सड़क पर अपने साथ छेड़खानी और छींटाकशी की घटना का भी जिक्र किया।
बीए की छात्रा शबाना ने कहा कि अगर हमारे शहर में भी इस तरह के स्क्वायड का गठन होता है तो हमें घर से बाहर निकलने में सहूलियत होगी। पहले यूपी की लड़कियों को घर से निकलने में डर लगता है लेकिन अब मनचलों को घर से बाहर निकलने में डर लगता है। 
उसने बताया कि रोड पर निकलने में हमें कई तरह की दिक्कतें होती हैं। हमारे उपर छींटाकशी होती है लेकिन बदनामी के डर से हम चाह कर भी कुछ नहीं बोल पाते हैं कॉलेज की ही एक छात्रा अनु ने कहा कि अगर हमारे शहर में ऐसा दस्ता बनता है तो हम इसका स्वागत करेंगे और साथ देंगे ताकि हमें और किसी भी तरह की दिक्कतें न हों। अनु के मुताबिक हमसे बदतमीजी होती है रही है लेकिन सहना पड़ता है क्योंकि हम लड़की हैं तो परिवार पर सीधे आरोप लग जाता है।
महिला कॉलेज की प्राचार्या ने भी सरकार को सुझाव दी और यूपी की तर्ज पर बिहार में भी इस तरह के दस्ता का गठन करने की मांग की जिसमें महिला पुलिस की ही भागीदारी हो।

You May Also Like

English News