अभी-अभी: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश को किया संबोधित, पढि़ए क्या-क्या कहा

नई दिल्ली: देश राष्ट्रपति बनने के बाद रामनाथ कोविंद ने आज स्वतंत्रता दिवस के पूर्व संध्या पर देश को संबोधित करते हुए कहा कि न्यू इंडिया में गरीबी के लिए कोई जगह नहीं होगी। उन्होंने कहा कि भारत को स्वच्छ बनाना हम सब की जिम्मेदारी है। कानून का पालन करने वाला नागरिक बनना सबकी जिम्मेदारी है।

नोटबंदी के दौरान आप सबने धैर्य का परिचय दिया वह सबसे अहम है। सब्सिडी छोडऩे वाले परिवार को का राष्टï्रपति ने नमन करते हुए धन्यवाद दिया। सरकार के साथ जनता को भी स्वच्छ बनाने की जिम्मेदारी लेनी होगी। बेटियों के साथ भेदभाव ना हो यह सुनिश्चित करना होगा। उन्होंने कहा कि धर्म के आधार पर कोई भेदभाव ना हो।

न्यू इंडिया का निर्माण ऐसा हो कि जिससे कि नागरिक का सही निर्माण हो सके। सरकार न्यू इंडिया के लिए काम कर रही है। राष्ट्रपति ने कहा कि सेवा , सम्मान और मदद का भाव हमारे रग रग में है। उन्होंने कहा कि संवेदनशील समाज बनाने की जरुरत है। विश्व समुदाय की दृष्टि में भारत एक अच्छे छवि बना रहा है। चाहे हम देश में रहे या विदेश में रहे हमे यह जानना चाहिए कि हमें देश के निर्माण में क्या योगदान कर सकते हैं। राष्ट्रपति ने अपने भाषण के दौरान कहा कि हमे

आजादी के वीरों को नहीं भुला सकते हैं। आजाद भारत का सपना साकार हुआ। देश महापुरुषों का ऋ णी है। गांधीजी ने चरीत्र निर्माण पर बल दिया था। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि देश अंबेडकर और नेहरु को नहीं भुला राष्ट्रपति ने कहा कि इंटरनेट का सही इस्तेमाल के लिए उपयोग करना चाहिए। भगत सिंह,आजाद और बिस्मिल को उन्होंने नमन किया। अंत में उन्होंने कहा कि देश की जनता ने जीएसटी को स्वीकारा है।

You May Also Like

English News