अभी-अभी: रुपाणी ने दिया बड़ा बयान, कहा- 2012 में कांग्रेस ने डाला था चुनाव आयोग पर दबाव

गुजरात चुनाव की घोषणा में होने वाली देरी पर कांग्रेस के आरोपों का जवाब देते हुए राज्य के मौजूदा मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कांग्रेस पर ही गंभीर आरोप लगा दिए हैं. मोदी के दौरे से ठीक एक दिन पहले एक कार्यक्रम में गुजरात सीएम ने कहा, “2012 में कांग्रेस ने डाला था चुनाव आयोग पर दबाव. कांग्रेस ने लंबे वक्त तक मॉडल कोड लगवाकर मोदी जी को काम करने से रोका था.” इसके साथ ही उन्होंने इस बात को सिरे से नकार दिया कि गुजरात चुनावों की घोषणा में हो रही देरी में केन्द्र सरकार का हाथ है.अभी-अभी: रुपाणी ने दिया बड़ा बयान, कहा- 2012 में कांग्रेस ने डाला था चुनाव आयोग पर दबावआखिर क्यों बेचैन है बीजेपी? एक साल में PM मोदी का 14वां गुजरात दौरा

रूपाणी ने एक आयोजित चुनाव कार्यक्रम में कहा, “2012 विधानसभा चुनाव में निर्वाचन आयोग ने कांग्रेस के कहने पर मोदी जी को काम करने से रोकने के लिए रिकॉर्ड समय के लिए आचार संहिता को लागू रखा.” मुख्यमंत्री ने इस आरोप से भी इनकार किया कि बीजेपी सरकार निर्वाचन आयोग के फैसलों में हस्तक्षेप कर रही है.

गौरतलब है कि निर्वाचन आयोग ने गत बृहस्पतिवार को हिमाचल प्रदेश के चुनाव कार्यक्रम की घोषणा की थी लेकिन गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीख की घोषणा नहीं की थी. मुख्य निर्वाचन आयुक्त एके जोति ने यह जरूर कहा था कि गुजरात विधानसभा चुनाव 18 दिसंबर से पहले होंगे. क्योंकि हिमाचल और गुजरात दोनों राज्यों की मतगणना एक साथ 18 दिसंबर को होगी.

कांग्रेस ने लगाया था आरोप 

हिमाचल चुनाव की घोषणा होने के तुरंत बाद कांग्रेसी नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा था कि मोदी सरकार चुनाव आयोग पर दबाब डाल गुजरात चुनाव को मुल्तवी कराना चाहती है. लेकिन, जनता बीजेपी को चलता करने का मन बना चुकी है. उन्होंने सवाल उठाया कि क्या गुजरात में चुनाव आचार संहिता की घोषणा इसलिए नहीं हो रही क्योंकि नरेंद्र मोदी 16 अक्टूबर को लुभावने जुमले देने वहां जा रहे हैं?

You May Also Like

English News