अभी-अभी लखनऊ के सर्राफ की उन्नाव में हत्या, नहर में बक्से में बंद मिला शव!

लखनऊ: राजधनी लखनऊ के कृष्णानगर इलाके से लापता सर्राफा कारोबारी कुलदीप सिंह की हत्या कर दी गयी। उनका शव मंगलवार की दोपहर उन्नाव के अजगैन इलाके में नहर में एक बक्से में बंद मिला। मौके पर पहुंची पुलिस व परिवार वालों ने शव की शिनाख्त कर ली है। कारोबारी के पास मौजूद 10 लाख के जेवरात भी गायब है। पुलिस का मनना है कि कारोबारी की हत्या के पीछे उसके ही किसी परिचित का हाथ है। फिलहाल पुलिस ने रंजिश व लूटपाट दोनों ही पहलुओं पर छानबीन कर रही है।


एसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्र ने बताया कि कृष्णानगर के अम्बेडकरनगर इलाके में सर्राफा कारोबारी 55 वर्षीय कुलदीप सिंह अपने परिवार के साथ रहते हैं। वह अक्सर जेवरात लेकर उन्नाव के नवाबगंज सप्लाई करने के लिए जाया करता था। रविवार की सुबह भी कुलदीप 10 लाख के जेवरात लेकर उन्नाव के लिए घर से निकले थे।

बताया जाता है कि कुलदीप बस से उन्नाव के लिए निकले थे। शाम तक जब वह वापस नहीं लौटे तो परिवार वालों ने उनका मोबाइल फोन मिलाया पर फोन से सम्पर्क नहीं हो सका। इस पर बेटे ने उन्नाव के कारोबारियों से फोन पर बातचीत की तो पता चला कि कुलदीप सिंह उन्नाव आये ही नहीं थे। सोमवार की सुबह होते ही परिवार के लोग कुलदीप सिंह के गायब होने की शिकायत लेकर कृष्णानगर पुलिस के पास पहुंचे। परिवार वालों ने अनहोनी की आशंका भी जतायी।

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने इस संबंध में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर ली। पुलिस ने सर्विलांस की मदद से जब कुलदीप सिंह की लोकेशन पता की तो लोकेशन उन्नाव में ही मिली। पुलिस कुलदीप सिंह की तलाश में जुटी ही थी कि मंगलवार की दोपहर उन्नाव के अजगैन इलाके में कुलदीप सिंह का शव नहर में एक बक्से में पड़ा मिला।

उन्नाव पुलिस ने इस बात की खबर कृष्णानगर पुलिस को दी। सूचना मिलते ही कृष्णानगर पुलिस अजगैन पहुंच गयी। कुछ ही देर के बाद कुलदीप सिंह के परिवार के लोग भी उन्नाव पहुंच गये। उन लोगों ने नहर में मिले शव की पहचान कुलदीप सिंह के रूप में की।

कुलदीप के पास मौजूद 10 लाख के जेवरात व अन्य सामान गायब था। छानबीन के बाद उन्नाव पुलिस ने कुलदीप सिंह के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही यह साफ हो सकेगा कि कुलदीप सिंह की हत्या कब और कैसे की गयी?

हत्या के पीछे रंजिश व लूटपाट हो सकता मकसद
कारोबारी कुलदीप सिंह की हत्या के मामले में छानबीन कर रही कृष्णानगर पुलिस का कहना है कि अभी तक परिवार वालों की तरफ से किसी पर कोई शंका जाहिर नहीं की गयी है। हत्या को लेकर या तो कोई पुरानी रंजिश हो सकती है या फिर लूटपाट के इरादे से कुलदीप सिंह की हत्या की गयी है। कृष्णानगर पुलिस का कहना है कि दोनों ही पहलुओंं पर पुलिस छानबीन कर रही है। सर्विलांस की मदद से इस बात का भी पता किया जा रहा है कि कारोबारी की आखिरी बार किन-किन लोगों से बातचीत हुई थी।

loading...

You May Also Like

English News