अभी-अभी : वोडाफोन और आइडिया कम्पनी का हुआ विलय !

मुम्बई: रिलायंस जियो के बाद देश में संचार क्रांती से दूसरे टेलीकॉम कम्पनियों का खासा नुकसान उठाना पड़ा। जीयो को टक्कर देने के लिए सभी कम्पनियों में नये-नये आफर पेश किये पर वह लोग ग्राहकों को अपनी तरफ खींच नहीं सके। अब देश के दो बड़े टेलिकॉम ऑपरेटर वोडाफोन और आइडिया के बीच विलय की घोषणा कर दी गई है।

 

इस घोषणा के बाद भारत में नंबर वन कंपनी बन गई है। बता दें कि करीब आठ महीने तक चली लंबी बातचीत के बाद वोडाफोन और आदित्य बिड़ला समूह की आइडिया सेल्युलर का विलय हो पाया।
ैपहले ऐसी जानकारी थी कि वोडाफोन पीएलसी और आदित्य बिड़ला समूह की हिस्सेदारी विलय के बाद बनने वाली इकाई में बराबर.बराबर होगी। हालांकि अभी तक विलय के संबंध में पूरी डिटेल्स नहीं आ पाई है। न्यूज एजेंसी रायटर्स के मुताबिक इस विलय को दोनों कंपनियों ने स्वीकृति दे दी है। इन दोनों कम्पनियों का विलय रिलायंस जियों के लिए एक बड़ी चुनौती होगा। अब देखने वाली बात यह होगी कि यह सभी कम्पनियां ग्राहकों को अपनी तरफ खींचने के लिए क्या कदम उठाती हैं।

You May Also Like

English News